Friday, August 23, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

डा. माधुरी बड़थ्वाल को मिला नारी शक्ति पुरस्कार 2019 , आकाशवाणी की पहली महिला संगीत निर्देशक भी रही हैं

अंग्वाल संवाददाता
डा. माधुरी बड़थ्वाल को मिला नारी शक्ति पुरस्कार 2019 , आकाशवाणी की पहली महिला संगीत निर्देशक भी रही हैं

नई दिल्ली/देहरादून । महिला दिवस के अवसर पर अलग-अलग तरह के उल्लेखनीय कार्य करने वाली देश की 40 से अधिक महिलाओं को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नारी शक्ति पुरस्कार से नवाजा। इन महिलाओं में उत्तराखंड की लोकगाथाओं पर शोध संस्थान कहे जाने वाली और आकाशवाणी की पहली महिला संगीत निर्देशक  डॉ. माधुरी बड़थ्वाल को भी इस पुरस्कार से नवाजा गया । आकाशवाणी में 32 साल सेवा देने के बाद डॉ. माधुरी बड़थ्वाल ने अपनी लोक संस्कृति और लोकगीतों को आने वाली पीढ़ी तक पहुंचाने का काम कर रही हैं।

बता दें कि 19 मार्च 1953 को जन्मी  डॉ. माधुरी बड़थ्वाल को यूं तो संगीत विरासत में मिला। उनके पिता गायक एवं सितारवादक पिता चंद्रमणि उनियाल ही अपनी बेटी के प्रारंभिक गुरू बने। हालांकि बाद में डॉक्टर माधुरी ने प्रयाग संगीत समिति से विधिवत संगीत की शिक्षा ली। महज ढाई साल की आयु में लोकसंगीत के प्रति उनका लगाव ऐसा हुआ कि उन्होंने इसी में अपना पूरा जीवन लगा दिया ।

वह पिछले 5 दशकों से लोकगीतों के संरक्षण और संवर्धन मे शिद्दत से जुटी हुईं है। इस दौरान उन्होंने उत्तराखंड में घूम घूमकर लोककला और विधाओं के संरक्षण में अपनी अहम भूमिका निभाई। इतना ही नहीं उन्होंने कई प्रतिभाशाली कलाकारों को लोकसंगीत का प्रशिक्षण भी दिया।


वह भारत की पहली ऐसी महिला बनीं , जिन्होंने आकाशवाणी में बतौर पहली महिला म्यूजिक कंपोजर का खिताब हासिल किया।

 

Todays Beets: