Tuesday, June 25, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

राज्य में 16 सितंबर से आयोजित होगा ‘पर्यटन पर्व’, दिखेगा संस्कृति और साहसिक पर्यटन का अनोखा संगम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राज्य में 16 सितंबर से आयोजित होगा ‘पर्यटन पर्व’, दिखेगा संस्कृति और साहसिक पर्यटन का अनोखा संगम

पौड़ी। उत्तराखंड की सैर पर आने वालों को संस्कृति और साहसिक पर्यटन का एक साथ आनंद लेने का मौका मिलने वाला है। पर्यटन नगरी पौड़ी में 16 सितंबर को पर्यटन पर्व का आगाज होने जा रहा है। 27 सितंबर तक जिले के विभिन्न क्षेत्रों में आयोजित होने वाले इस पर्व के तहत साहसिक खेल, योगा मेडिसन, ट्रेकिंग, स्वच्छता अभियान व निबंध प्रतियोगिता के अलावा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे। इन दिनों जिला प्रशासन और पर्यटन विभाग की पहल पर कार्यक्रम से जुड़े विभाग पर्यटन पर्व की तैयारियां में जुटे हैं। 

गौरतलब है कि केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय की ओर से राज्य की संस्कृति और पर्यटन को बढ़ाव देने के लिए इस पर्व को मनाने की योजना बनाई गई है। बताया जा रहा है कि पर्यटन पर्व की शुरुआत 16 सितंबर से पौड़ी के कंडोलिया से खिसरू तक माउंटने बाइकिंग प्रतियोगिता से होगी।  17 सितंबर से ऋषिकेश के स्वर्गाश्रम क्षेत्र में योगा मेडिसन का कार्यक्रम रखा गया है। 20 सितंबर से लैंसडौन स्थित पर्यटक आवास गृह में फूड एंड क्राफ्ट फेस्टिवल आयोजित किया जाएगा। 

ये भी पढ़ें - गंगा संरक्षण के लिए 80 दिनों से अनशन कर रहे ‘स्वामी’ का केंद्र को चेतावनी, 10 अक्टूबर से जल क...


यहां बता दें कि 21 सितंबर से रथुवाढाब में बर्ड वाचिंग एवं कैंपिंग शुरू होगी। विशेष बात यह है कि पर्यटन पर्व की पीएम मोदी की महत्वाकांक्षी योजना, स्वच्छता अभियान को भी प्रमुखता से शामिल किया गया है। यह नीलकंठ, कोटद्वार, और ताड़केश्वर आदि क्षेत्रों में आयोजित किया जाएगा। 

इसके अलावा क्विज, निबंध, पेंटिंग प्रतियोगिता आदि कार्यक्रम आयोजित होने के बाद आगामी 27 सितंबर को पौड़ी में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ पर्यटन पर्व का समापन होगा। इसके लिए जिला प्रशासन की ओर से सभी संबंधित विभागों को जिम्मेदारी सौंप दी गई है। कार्यक्रम के समापन पर संस्कृति विभाग के सहयोग से सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा। 

Todays Beets: