Friday, September 20, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

त्रिवेंद्र रावत सरकार की नीतियों के विरोध में कांग्रेस का पूरे प्रदेश में धरना प्रदर्शन , सरकारी एजेंसियों के दुरुपयोग के लगाए आरोप

अंग्वाल संवाददाता
त्रिवेंद्र रावत सरकार की नीतियों के विरोध में कांग्रेस का पूरे प्रदेश में धरना प्रदर्शन , सरकारी एजेंसियों के दुरुपयोग के लगाए आरोप

देहरादून । केंद्र की मोदी और प्रदेश की त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार की नीतियों के खिलाफ उत्तराखंड कांग्रेस मंगलवार को सड़कों पर उतरी । कांग्रेस ने इस दौरान राज्य सरकार के खिलाफ प्रदेश भर में प्रदर्शन कर केंद्र और राज्य सरकार पर सरकारी एजेंसियों के दुरुपयोग समेत कई मुद्दों में लापरवाही के आरोप लगाए । इसी क्रम में देहरादून के गांधी पार्क में प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश के साथ कई बड़े नेता जुटे और राज्य सरकार को घेरने की कोशिश की । कांग्रेस बेरोजगारी, बढ़ती महंगाई, डेंगू से हो रही मौतों, आपदा में मारे गए लोगों का सही आंकड़ा न दे पाने के कारण जैसे मुद्दों को लेकर आज प्रदेश भर में धरना दे रही है, प्रदर्शन कर रही है । देहरादून में जुटे कांग्रेस नेताओं, कार्यकर्ताओं ने भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

इस दौरान कांग्रेसी नेताओं ने प्रदेश के अनेक हिस्सों में आई आपदा में सरकारी लापरवाही , ध्वस्त पड़ी स्वास्थ्य सेवाएं , डेंगू की महामारी , बढ़ती बेरोजगारी व केंद्र तथा राज्य सरकार  द्वारा सीबीआई ईडी जैसी जांच एजेंसियों के विपक्षी नेताओं के विरुद्ध दुरुपयोग का आरोप लगाया । इस दौरान नेता प्रतिपक्ष विधानसभा डॉक्टर इंदिरा हृदयेश, विधायक मनोज रावत विधायक ममता राकेश, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय समेत अनेक पूर्व विधायकों पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया। 


धरने को संबोधित करते हुए श्री प्रीतम सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को राज्य का अब तक का सबसे असंवेदनशील मुख्यमंत्री करार देते हुए उन पर राज्य में आई आपदा को हल्के में लेने का आरोप लगाए। उन्होंने कहा - जिस प्रकार से सरकारी तंत्र ने काम किया उससे लगता ही नहीं कि राज्य में आपदा प्रबंधन विभाग जैसा कोई मंत्रालय अस्तित्व में हैं ।  उन्होंने कहा- मुख्यमंत्री स्वयं इस विभाग के मंत्री हैं लेकिन आपदा से निबटने में सरकार पूरी तरह से फेल हुई है। 

इस दौरान धरने पर बैठे नेताओं ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार केंद्रीय जांच एजेंसियों सीबीआई व ईडी का दुरुपयोग विपक्ष के नेताओं की आवाज दबाने के लिए कर रही है लेकिन कांग्रेस अत्याचार अन्याय व जन विरोधी नीतियों के खिलाफ हमेशा अपनी आवाज़ बुलंद करती रहेगी। इस अवसर पर नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर इंदिरा हृदयेश ने कहा कि केंद्र व राज्य की सरकार का एक मात्र एजेंडा लोगों को सांप्रदायिक आधार पर बांट कर जनता का ध्यान असली मुद्दों से भटकाने में लगाने का है। धरने को पूर्व पीसीसी अध्यक्ष किशोर उपाध्याय, एमएलए ममता राकेश,एमएलए मनोज रावत, पूर्व विधायक राजकुमार पूर्व विधायक रामयश सिंह, धरने का संचालन प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूर्य कांत धस्माना ने किया।

Todays Beets: