Wednesday, March 27, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

यूपी में दूसरे राज्यों से सीलबंद शराब लाने वाले हो जाएं सावधान, जुर्माने के साथ जेल की खानी पड़ेगी हवा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यूपी में दूसरे राज्यों से सीलबंद शराब लाने वाले हो जाएं सावधान, जुर्माने के साथ जेल की खानी पड़ेगी हवा

नई दिल्ली।  उत्तरप्रदेश सरकार ने राज्य में शराब, बीयर की दुकानों के खुलने और बंद करने के समय में भी बदलाव कर दिया है। इसके साथ ही प्रदेश के निवासियों के दूसरे राज्यों से शराब लाने पर जेल और जुर्माने का प्रवाधान कर दिया है। योगी सरकार ने कहा कि प्रदेश में बाहर से शराब लाने वाले निवासियों को जेल के साथ 5 हजार रुपये का जुर्माना देना होगा। आबकारी नियमों में बड़ा बदलाव करते हुए योगी सरकार ने कहा है कि दूसरे राज्यों में खरीदी गई शराब की केवल एक बोतल ही व्यक्ति एक बार में लेकर के प्रवेश कर सकता है वह बोतल भी सीलबंद होनी चाहिए। सरकार का मानना है कि दूसरे राज्य से सीलबंद शराब लाकर यूपी में उसकी तस्करी की जाती है।

गौरतलब है कि एक से अधिक बोतल शराब या बीयर की बोतल लाने पर जेल की हवा खानी पड़ेगी। बड़ी बात यह है कि इसमें आपको जमानत भी नहीं मिलेगी। नए नियमों के अनुसार एक से ज्यादा जितनी भी बोतल मिलेंगी, उससे 10 गुणा ज्यादा जुर्माना देना पड़ेगा। बता दें कि उत्तरप्रदेश की सीमा उत्तराखंड, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, मध्यप्रदेश और बिहार से लगती है।

ये भी पढ़ें - आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग पर अब वाईएसआर कांग्रेस के 5 सांसदों ने दिया...


यहां बता दें कि हरियाणा और दिल्ली में उत्तरप्रदेश के मुकाबले शराब काफी सस्ती मिलती है इस वजह से लोग पार्टी करने के लिए इन राज्यों से शराब लेकर जाते हैं। इससे उत्तर प्रदेश को शराब से होने वाले राजस्व में काफी नुकसान होता है।वहीं दूसरी तरफ शराब की खुली बोतलों पर प्रदेश का नियम लागू नहीं होगा। सील बोतल के लिए माना जाएगा कि वो तस्करी के लिए लाई जा रही है। ऐसे में  अब दूसरे राज्य से शराब लाने वाले लोग सावधान हो जाएं। 

योगी सरकार ने राज्य में शराब की दुकानों और बीयरबार के खुलने और बंद होने के समय में भी बदलाव कर दिया है। अब प्रदेश में भी दिल्ली वाला समय लागू होगा। 1 अप्रैल से लागू हुए नियमों के अनुसार अब दुकानें केवल दोपहर 12 बजे से लेकर के रात 10 बजे तक खुलेंगी। बता दें कि पहले यह सुबह 9 बजे से लेकर के रात 11 बजे तक खुला करती थी।

Todays Beets: