Thursday, October 22, 2020

Breaking News

   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||   लक्ष्मी विलास होटल केस: पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी हुए सीबीआई कोर्ट में पेश     ||   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||

हाथरस केस - CBI जांच के लिए गांव पहुंची , पीड़ित परिवार और आरोपियों से हो सकती है पूछताछ 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
हाथरस केस - CBI जांच के लिए गांव पहुंची , पीड़ित परिवार और आरोपियों से हो सकती है पूछताछ 

हाथरस । यूपी के बहुचर्चित हाथरस गैंगरेप कांड की जांच करने के लिए अब एसआईटी के बाद सीबीआई की टीम पीड़िता के गांव पहुंच गई है । सीबीआई ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है । इससे पहले ही स्थानीय पुलिस ने कथित गैंगरेप वाले घटनास्थल पर 50 मीटर की बैरिकेडिट कर दी है । कहा जा रहा है कि सीबीआई अपने जांच के दौरान गांव में क्राइम सीन को रिक्रिएट कर सकती है । वहीं कोर्ट से आदेश लेकर जेल में बंद आरोपियों से पूछताछ करेगी । इस बीच पीड़ित परिवार का कहना है कि वह न्याय मिलने तक अस्थि विजर्सन नहीं करेंगे । 

बता दें कि योगी सरकार द्वारा सीबीआई जांच की संस्तुति करने के बाद अब केंद्र से भी इस हरी झंडी दिखाई जा चुकी हैं । सीबीआई ने एसआईटी से मामले के दस्तावेज ले लिए हैं । इतना ही नहीं आज यानी मंगलवार से वह इस मामले की जांच शुरू करने जा रही है । सीबीआई की टीम गांव में पहुंचकर सबसे पहले पीड़ित परिजनों से पूछताछ करेगी । 

ऐसी सूचना है कि जल्द ही सीबीआई पूरे घटनाक्रम का क्राइम सीन रिक्रिएट करेगी । इस दौरान आरोपियों को भी कोर्ट से आदेश लेकर पूछताछ की जाएगी । अब तक की जांच के आधार पर और आरोपियों पर पीड़ित परिजनों के आरोपों को भी जोड़ने के लिए तफ्तीश की जाएगी ।


असल में इस मामले में गुत्थी काफी उलझी हुई है । जहां पीड़ित परिवार ने आरोपियों पर गंभीर आरोप लगाए , वहीं अब तक की जांच में कई ऐसे तथ्य सामने आए हैं , जिनकी गहनता से जांच करना जरूरी है । पीड़िता के परिजनों और मुख्य आरोपी के परिजनों के बीच बातचीत के भी तथ्य सामने आए हैं । इस पूरे कांड में गांव वालों का कहना है कि आरोपियों  पर झूठे आरोप लगाए गए हैं । 

 

Todays Beets: