Saturday, December 5, 2020

Breaking News

   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||   लक्ष्मी विलास होटल केस: पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी हुए सीबीआई कोर्ट में पेश     ||   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||

एम्स निदेशक गुलेरिया ने चेताया , कहा - अगले कुछ हफ्ते हो सकते हैं खतरनाक , बताया यह कारण

अंग्वाल न्यूज डेस्क
एम्स निदेशक गुलेरिया ने चेताया , कहा - अगले कुछ हफ्ते हो सकते हैं खतरनाक , बताया यह कारण

नई दिल्ली । देश दुनिया में भले ही कोरोना के मामलों में भले ही कमी आ रही हो , लेकिन राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में पिछले कुछ दिनों में फिर से संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है । इस सबके बीच एम्स के निदेशख डॉक्टर गुलेरिया ने चेतावनी दी है कि आने वाले दिन कोरोना को लेकर काफी खतरनाक हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि भारत में अभी दूसरे चरण की आफत जारी है । एक बार फिर से वह सक्रिय होती नजर आ रही हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में प्रदूषण के चलते यह वायरस और खतनाक हो सकता है । ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन और मास्क लगाकर रखना बहुत जरूरी है । 

डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि एक बार फिर से कोरोना का वायरस परेशानी खड़ा कर सकता है । मौसम और प्रदूषण को भी जिम्मेदार बताते हुए कहा कि प्रदूषण के कारण वायरस ज्यादा देर तक हवा में रहता है । प्रदूषण और वायरस, दोनों ही फेफड़े को प्रभावित करते हैं । उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस अभी खत्म नहीं हुआ । 

उन्होंने इस दौरान कहा कि अभी भी कोरोना वायरस सक्रिय है । यूरोप और अन्य देशों में एक बार फिर से कई जगहों पर कोरोना के सक्रिय होने की खबरें हैं । वह बोले - जरूरत है कि लोग मास्क लगाना न छोड़ें। जरूरी काम न हो तो बाहर न जाएं । अगर हम सावधानी नहीं बरतेंगे तो और भी ज्यादा मामले सामने आएंगे। 


इस दौरान उन्होंने इन आशंकाओं को खारिज किया , जिसमें युवाओं का ऐसा सोचना है कि उनकी इम्यूनिटी अच्छी है और अगर उन्हें कोरोना हुआ भी तो वह बहुत हल्का होगा , लेकिन ऐसा नहीं है। यह धारण गलत है । असल में कई जगह ऐसा देखा जा रहा है कि कुछ युवा , जिनकी इम्यूनिटी ठीक है , लेकिन वह अपने घरों में वायरस ले जा रहे हैं , जिसकी चपेट में घर के बुजुर्ग आ रहे हैं । ऐसे में अभी भी कोरोना को हल्के में न लें । जितना हो सके मास्क लगाकर घूमें , बिना वजह भीड़ भाड़ वाले इलाकों में न जाएं । 

 

Todays Beets: