Thursday, June 30, 2022

Breaking News

   मुठभेड़ में एक आतंकी मारा गया, कुलगाम में बैंक मैनेजर की हत्या में शामिल था: IGP कश्मीर     ||   जालंधर: अरविंद केजरीवाल के दौरे से पहले दीवारों पर लिखे मिले खालिस्तान के सपोर्ट वाले स्लोगन     ||   पुलिस लॉरेंस बिश्नोई को लेकर मोहाली पहुंची, अज्ञात जगह हो रही पूछताछ     ||   राष्ट्रपति चुनाव: ममता बनर्जी की मीटिंग में जाएंगे मल्लिकार्जुन खड़गे और जयराम रमेश     ||   दिल्ली: कांग्रेस कार्यकर्ताओं का उग्र प्रदर्शन, बैरिकेड तोड़े, टायर जलाए     ||   सुवेंदु अधिकारी समेत निलंबित भाजपा विधायकों ने पश्चिम बंगाल विधानसभा में धरना दिया     ||   18 जून को 100 साल की हो जाएंगी नरेंद्र मोदी की मां हीराबा, मिलने जाएंगे पीएम     ||    रोडरेज मामले में सिद्धू को 1 साल कठोर कारावास की सजा, SC ने 34 साल पुराने केस में सुनाई सज़ा    ||   बिहार विधानसभा में कानून व्यवस्था को लेकर हंगामा, CPI-ML के 12 विधायकों को किया गया बाहर     ||   गौतमबुद्ध नगर के तीनों प्राधिकरणों के 49,500 करोड़ नहीं चुका रहीं रियल एस्टेट कंपनियां     ||

जेल से लॉरेंस ने फिल्मी अंदाज में रची मूसेवाला हत्याकांड की साजिश , भाई-भांजे को गोल्डी की मदद से विदेश भिजवाया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
जेल से लॉरेंस ने फिल्मी अंदाज में रची मूसेवाला हत्याकांड की साजिश , भाई-भांजे को गोल्डी की मदद से विदेश भिजवाया

नई दिल्ली । बहुचर्चित पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या के मुख्य आरोपियों में शामिल गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई से इन दिनों पंजाब पुलिस पूछताछ कर रही है । हाल में कोर्ट ने विश्नोई को पंजाब पुलिस की कस्टडी में सौंपने का आदेश दिया था । इस पूछताछ के बाद जो कहानी सामने आ रही है वह काफी फिल्मी है । पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार , लॉरेंस ने मूसेवाला की हत्या की साजिश कनाडा में बैठे गोल्डी बरार के साथ मिलकर रची थी । हालांकि इस पूरे घटनाक्रम के बीच सामने आया है कि लॉरेंस ने इस हत्याकांड को अंजाम देने से पहले ही गोल्डी बरार की मदद से अपने भाई और भांजे को विदेश भिजवा दिया था , ताकि मूसेवाला की हत्या के बाद उन दोनों को पुलिस पकड़ न पाए ।

बता दें कि गत दिनों एक मामले में दिल्ली की कोर्ट में पेश हुए गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई  की रिमांड पंजाब पुलिस ने मूसेवाला हत्याकांड को लेकर मांगी थी , जिसके दस्तावेज दाखिल करने के बाद कोर्ट ने पंजाब पुलिस को उसकी कस्टडी दे दी थी । इसके बाद से लॉरेंस से पंजाब पुलिस पूछताछ कर रही है ।

इस पूछताछ में सामने आया है कि लॉरेंस ने 7 अगस्त 2021 में विक्की मिडूखेड़ा की हत्या के बाद से मूसेवाला की हत्या की साजिश रचना शुरू कर दिया था । इतना ही नहीं उसकी रेकी भी करवाई जा रही थी । पूर्व में रची गई साजिश के तहत मूसेवाला को घर में घुसकर मारने का प्लान बना , लेकिन मूसेवाला की सुरक्षा कड़ी होने के चलते यह साजिश अंजाम तक नहीं पहुंच पाई ।

इतना ही नहीं लॉरेंस ने अपने भाई अनमोल विश्नोई और भांजे सचिन को देश से बाहर भेजने के लिए गोल्डी बरार के साथ मिलकर योजना बनाई । जेल से छूटे अनमोल विश्नोई को लॉरेंस ने पहले गोल्डी की मदद से भारत से बाहर भिजवाया बाद में उसे यूरोप में कहीं शिफ्ट कर दिया है ।  कुछ ऐसी ही योजना उसने अपने भांजे सचिन के लिए बनाई , जिसे भारत से भिजवाने के बाद अब किसी को पता नहीं है कि वह किस देश में छिपा हुआ है ।


परिवार के इन दो सदस्यों को शिफ्ट कर देने और खुद के जेल में होने पर लॉरेंस ने मूसेवाला को मारने के लिए अपने गुर्गों को फाइनल आदेश दे दिए ।

सूत्रों के अनुसार , लॉरेंस इस बात से नाराज था कि मूसेवाला दूसरे गैंगस्टरों के साथ जुड़ा हुआ था । इतना ही नहीं वह अपने वीडियों में हथियारों का प्रदर्शन करते हुए उन्हें चैलेंज देता था । मूसेवाला को अपनी हत्या की धमकी मिलने के बाद उसने जिस तरह से गैंगस्टरों को देख लेने की बात कही थी , उससे विश्नोई ज्यादा गुस्सा था ।

यह बात भी सामने आई है कि जेल में बैठे बैठ लॉरेंस कनाडा में बैठे गोल्डी बरार से बात करता था । उसका जेल में भी नेटवर्क फैल गया है , जिसके माध्यम से वह फोन पर आसानी से गोल्डी से बात किया करता था । इस बात की तस्दीक उसके साथ जेल में रहे पंजाब के गैंगस्टर जग्गू भगवान पुरिया ने भी की है । जिस दौरान पंजाब का बड़ा गैंगस्टर और ड्रग्स माफिया जग्गू तिहाड़ जेल में बंद था , उसी दौरान लॉरेंस भी उसके साथ बंद था । जग्गू ने बताया है कि उस दौरान मेरे और लॉरेंस के बाद गोल्डी बरार के फोन आते थे । बाद में हम दोनों को अलग अलग जेलों में बंद कर दिया गया ।

Todays Beets: