Tuesday, October 26, 2021

Breaking News

   52वां इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया 20 से 28 नवंबर तक गोवा में होगा     ||   पीएम मोदी की अपील- मेड इन इंडिया सामान खरीदने पर जोर दें, इसके लिए सब प्रयास करें     ||   भारत में 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर बिल गेट्स ने दी पीएम मोदी को बधाई     ||   सेना की 39 महिला अफसरों की बड़ी जीत, मिलेगा स्थायी कमीशन; SC ने दिया आदेश     ||   बिहार में महागठबंधन टूटा, कांग्रेस का ऐलान 2024 के आम चुनाव में सभी 40 सीटों पर लड़ेगी पार्टी     ||   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||   तालिबान की अमेरिका को धमकी, 31 अगस्त के बाद भी रही सेना तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे    ||   कर्नाटक CM से स्थानीय BJP विधायक की मांग- कोरोना के चलते किसी भी हिंदू पर्व पर ना लगे बंदिशें    ||   तेजप्रताप की नाराजगी के सवाल पर बोले तेजस्वी- राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर ही देंगे जवाब    ||   अंडमान एंड निकोबार के पोर्ट ब्लेयर में महसूस किए गए 4.3 तीव्रता के भूकंप     ||

अदानी समूह का बड़ा फैसला , अपने पोर्ट ने नहीं करेंगे ईरान, पाकिस्तान और अफगानिस्तान के कंटेनरों का आयात - निर्यात

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अदानी समूह का बड़ा फैसला , अपने पोर्ट ने नहीं करेंगे ईरान, पाकिस्तान और अफगानिस्तान के कंटेनरों का आयात - निर्यात

नई दिल्ली । पिछले दिनों गुजरात के मुंद्रा पोर्ट पर पकड़ी गई करीब 21,000 करोड़ रुपये की हेरोइन के बाद अब अदाणी पोर्ट ने एक बड़ा फैसला लिया है । अदानी पोर्ट ने अपने सभी टर्मिनलों पर 15 नवंबर से ईरान, पाकिस्तान और अफगानिस्तान के कंटेनरों की आवाजाही पर रोक लगा दी है। इस फैसले के बाद अब इस पोर्ट से इन तीन देशों का न तो कोई कंटेनर आ पाएगा , न ही यहां से इन तीन देशों में भेजा जा सकेगा । अदानी पोर्ट एवं स्पेशल इकोनोमिक जोन ने सोमवार को कहा कि इस संबंध में एक सलाह जारी की गई है जो अदाणी पोर्ट द्वारा संचालित सभी टर्मिनलों और उसके किसी भी पोर्ट पर तीसरे पक्ष के टर्मिनलों सहित अगली सूचना तक लागू रहेगी। 

अदानी समूह के प्रवक्ता बिना विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि इसे संबंधित हितधारकों को जारी किया गया है। अदानी पोर्ट अदानी उद्योग समूह का हिस्सा है। माना जा रहा है कि पश्चिमी गुजरात के उसके मुंद्रा पोर्ट पर भारी मात्रा में हेरोइन पकड़े जाने को ध्यान में रखते हुए कंपनी ने यह फैसला किया है। 1

बता दें कि गत 13 सितंबर को अदानी समूह द्वारा संचालित गुजरात के मुंद्रा पोर्ट पर दो कंटेनरों से करीब 3,000 किलोग्राम हेरोइन जब्त की गई थी। यह खेप अफगानिस्तान से आई थी, जो अफीम के सबसे बड़े अवैध उत्पादकों में से एक है। हेरोइन को बड़े-बड़े बैग में छुपाया गया था और कहा गया था कि इसमें असंसाधित टैल्क पाउडर था। हेरोइन को बैग की निचली परतों में रखा गया था और उसे छिपाने के लिए ऊपर से टैल्क पत्थर भरे गए थे। जब्त हेरोइन की कीमत करीब 21,000 करोड़ रुपये आंकी गई थी। 


हेरोइन की बरामदगी पर अदानी पोर्ट ने कहा था कि पोर्ट आपरेटरों को कंटेनरों की जांच करने की अनुमति नहीं है। उसकी भूमिका पोर्ट को चलाने तक ही सीमित है। 

 

Todays Beets: