Sunday, February 5, 2023

Breaking News

   Supreme Court: कलेजियम की सिफारिशों को रोके रखना लोकतंत्र के लिए घातक: जस्टिस नरीमन     ||   Ghaziabad: NGT के फैसले पर नगर निगम को SC की फटकार, 1 करोड़ जमा कराने की शर्त पर वूसली कार्रवाई से राहत     ||   दिल्लीः फ्लाइट में स्पाइसजेट की क्रू के साथ अभद्रता के मामले में एक्शन, आरोपी गिरफ्तार     ||   मोरबी ब्रिज हादसा: ओरेवा ग्रुप के मालिक जयसुख पटेल के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी     ||   भारत जोड़ो यात्राः राहुल गांधी बोले- हम चाहते हैं कि बहाल हो जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा     ||   MP में नहीं माने बजरंग दल और हिंदू जागरण मंच, 'पठान' की रिलीज के विरोध का किया ऐलान     ||   समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्या पर लखनऊ में FIR     ||   बजरंग पुनिया बोले - Oversight Committee बनाने से पहले हम से कोई परामर्श नहीं किया गया     ||   यमुना एक्सप्रेस-वे पर कोहरे की वजह से 15 दिसंबर से स्पीड लिमिट कम कर दी जाएगी     ||   भारत की यात्रा करने वाले ब्रिटेन के नागरिकों के लिए ई-वीजा सुविधा फिर से शुरू     ||

देश के लिए लड़ सकते हैं तो खुद लिए नहीं लड़ेंगे क्या , यह हमारे सम्मान की लड़ाई है - बजरंग पूनिया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
देश के लिए लड़ सकते हैं तो खुद लिए नहीं लड़ेंगे क्या , यह हमारे सम्मान की लड़ाई है - बजरंग पूनिया

नई दिल्ली । ओलंपिक कांस्य पदक विजेता बजरंग पूनिया ने गुरुवार को एक बार फिर से कुश्ती फेडरेशन के अध्यक्ष बृजभूषण शरण पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि अब हम चाहते हैं कि पूरी फेडरेशन को ही भंग किया जाए । पूनिया ने जंतर मंतर पर पहुंच रहे सैकड़ों कुश्ती के राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय पदक विजेताओं को संबोधित करते हुए कहा कि इस बार लड़ाई हमारे आत्मसम्मान की है । अगर हम देश के लिए लड़ सकते हैं तो अपने लिए नहीं लड़ेंगे क्या । उन्होंने कहा सभी खिलाड़ी हमारे साथ हैं । हम झुकेंगे नहीं । कोई भी खिलाड़ी अब दवाब में काम नहीं करेगा। 

हमें किसी राजनेता की जरूरत नहीं 

इस दौरान बजरंग पूनिया ने कहा कि हमारी लड़ाई गैर राजनीतिक है । इस मामले को राजनीतिक तूल देने की कोशिश न की जाए । उन्होंने कुश्ती फेडरेशन के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह शऱण पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि अब वह विदेश भागने की फिराक में है । उन्होंने कहा कि अब पहलवानों की मांग है कि कुश्ती संघ को पूरी तरह से खत्म कर दिया जाए और नए संघ का गठन किया जाए। खिलाड़ियों का कहना है कि कुश्ती संघ में भ्रष्ट लोगों की भरमार है।

बबीता फोगाट पहलवानों के बीच पहुंची

 इस बीच भाजपा नेता और दिग्गज महिला कुश्ती पहलवान बबीता फोगाट जंतर मंतर पहलवानों के बीच पहुंची । इस दौरान बजरंग पूनिया ने बताया की बबीता सरकार की तरफ से बातचीत करने के लिए आई हैं। वह मध्यस्थ के रूप में यहां आई हैं और पहलवान उनसे बातचीत करेंगे। इसके बाद आगे की जानकारी दी जाएगी।

कुश्ती संघ से मांगा गया है जवाब

बहरहाल , आरोप-प्रत्यारोप के इस दौर के बीच खेल मंत्रालय ने इस मामले में भारतीय कुश्ती संघ से जवाब मांग लिया है। केंद्रीय खेल मंत्रालय ने भारतीय कुश्ती संघ (डब्ल्यूएफआई) से इस मामले पर स्पष्टीकरण मांगा है। कुश्ती संघ को पहलवानों के आरोपों पर अगले 72 घंटों के अंदर जवाब देने का निर्देश दिया गया है।

फोगाट खाप साथ आया

इस सबके बीच हरियाणा में फोगाट खाप ने विनेश फोगाट के आरोपों को सही बताते हुए धरने पर बैठे पहलवानों का समर्थन किया है। फोगाट खाप ने दोपहर में सभी खापों की बैठक भी बुलाई है।


बृजभूषण सिंह ने खेल मंत्री से बात की 

इस बीच आरोपों में घिरे कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह ने खेल मंत्री अनुराग ठाकुर से बात की है। उन्होंने अपने आरोपों पर खेल मंत्री को सफाई दी है। इससे पहले खेल मंत्रालय ने कुश्ती संघ से 72 घंटे के अंदर पहलवानों के आरोपों पर जवाब मांगा था।

हरियाणा के मुख्यमंत्री खिलाड़ियों के साथ आए

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर खिलाड़ियों के समर्थन में खड़े नजर आए । उन्होंने कहा - भारतीय कुश्ती संघ को जवाब देने के लिए कहा गया है , सारी बातें गंभीरता से ली गई हैं , जो भी उनका जवाब आएगा , उसका संज्ञान खेल मंत्रालय लेगा , खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए हम जो काम करते हैं , उसके अंतर्गत हम अपनी बेटियों की शिकायत का पूरा संज्ञान लेंगे । पहले इससे संबंधी कोई शिकायत नहीं आई , कल ही हमें इसकी जानकारी मिली है । खिलाड़ियों की सुरक्षा को लेकर खेल मंत्रालय ने कुछ ठोस फैसले लिए हैं । हम खिलाड़ियों का मनोबल टूटने नहीं देंगे । 

वृंदा करात को नहीं दिया माइक

इस बीच जंतर मंतर पर पहुंची लेफ्ट की नेता वृंदा करात को खिलाड़ियों ने बाहर का रास्ता दिखा दिया । महिला खिलाड़ियों के यौन शोषण के आरोपों के मद्देनजर जंतर मंतर पहुंची वृंदा करात को खिलाड़ियों ने माइक तक नहीं दिया और वहां से चले जाने को कहा । बजरंग पूनिया ने कहा कि माइक किसी को नहीं दिया जाएगा , आप जो भी हैं सामने आइये । 

Todays Beets: