Friday, August 19, 2022

Breaking News

   टेस्ला के मालिक एलन मस्क को कोर्ट में घसीटने की तैयारी, ट्विटर संग होगी कानूनी जंग    ||   गोवा में कांग्रेस पर सियासी संकट! सोनिया ने खुद संभाला मोर्चा    ||   जयललिता की पार्टी में वर्चस्व की जंग हारे पनीरसेल्वम, हंगामे के बीच पलानीस्वामी बने अंतरिम महासचिव     ||   देशभर में मानसून एक्टिव हो गया है और ज्यादातर राज्यों में जोरदार बारिश हो रही है. भारी बारिश ने देश के बड़े हिस्से में तबाही मचाई है    ||   अगले साल अंतरिक्ष जाएंगे भारतीय , एक या दो भारतीयों को भेजने की योजना है     ||   कोरोना से 24 घंटे में 16678 लोग हुए संक्रमित     ||   उद्धव ठाकरे ने विधायकों को लिखी भावुक चिट्ठी     ||   सुप्रीम कोर्ट मे विजय माल्या का बड़ा झटका, अवमानना मामले में दोषी करार     ||   सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र में विधायकों की अयोग्यता पर फैसला लेने से स्पीकर को रोका     ||   मुठभेड़ में एक आतंकी मारा गया, कुलगाम में बैंक मैनेजर की हत्या में शामिल था: IGP कश्मीर     ||

LIVE - महामहीम के अपमान पर मचा घमासान , अधीर रंजन के बयान पर भाजपा का हल्ला बोल , सदन में माफी मांगेगे चौधरी?

अंग्वाल न्यूज डेस्क
LIVE - महामहीम के अपमान पर मचा घमासान , अधीर रंजन के बयान पर भाजपा का हल्ला बोल , सदन में माफी मांगेगे चौधरी?

नई दिल्ली । कांग्रेसी नेता अधीर रंजन चौधरी द्वारा नवनिर्वाचित राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के खिलाफ एक विवादित बयान देने का मुद्दा गुरुवार को बड़े हंगामे का कारण बन गया । संसद के भीतर और संसद के बाहर अधीर रंजन चौधरी के बयान को लेकर भाजपा ने कांग्रेस के खिलाफ हल्ला बोल दिया । भाजपा ने जहां चौधरी के बयान पर कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी से माफी मांगने की मांग की । भाजपा नेत्री स्मृति ईरानी ने संसद में कांग्रेस और सोनिया गांधी के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए कहा कि जिस औरत ने पंचायत से लेकर संसद भवन तक का सफर तय किया हो , उसके खिलाफ इस तरह का बयान शर्मनाक है । सोनिया गांधी को देशवासियों से और देश के आदिवासियों से माफी मांगनी चाहिए । वहीं अधीर रंजन चौधरी ने भी संसद के बाहर , अपने बयान को गलत बताते हुए कहा कि उसके मुंह से एक बार गलत बात निकल गई है । इस सबके बीच चौधरी ने सदन में अपने बयान पर बात रखने का समय मांगा है ।  

असल में यह है पूरा मामला

विदित हो कि कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू पर विवादित टिप्पणी की है । उन्होंने राष्ट्रपति के लिए 'राष्ट्रपत्नी' शब्द का इस्तेमाल किया था । अपनी इस टिप्पणी के बाद वह भाजपा के निशाने पर आ गए हैं । भाजपा ने लोकसभा में अधीर रंजन चौधरी द्वारा राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को ‘राष्ट्रपत्नी’ कहकर संबोधित किए जाने को गुरुवार को ‘घृणित तथा समस्त मूल्यों एवं संस्कारों के विरुद्ध करार दिया । पार्टी ने देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद पर आसीन एक आदिवासी महिला का अनादर करने के लिए कांग्रेस से माफी मांगने की मांग की । 

स्मृति ईरानी - पीय़ूष गोयल का हल्ला बोल

कांग्रेसी नेता अधीर रंजन चौधऱी अपने एक विवादित बयान को लेकर पहले भी सदन में माफी मांग चुके हैं , लेकिन इस बार उन्होंने देश की राष्ट्रपति के खिलाफ विवादित टिप्पणी को लेकर घिर गए हैं । जहां लोकसभा में भाजपा की तेजतर्रार नेता स्मृति ईरानी ने चौधरी के साथ ही सोनिया गांधी पर तंज कसे । जब से द्रौपदी मुर्मू का नाम राष्ट्रपति के उम्मीदवार के रूप में घोषित हुआ तब से ही द्रौपदी मुर्मू कांग्रेस पार्टी की घृणा और उपहास का शिकार बनीं। कांग्रेस पार्टी ने उन्हें कठपुतली कहा। ईरानी ने कहा- "कांग्रेस आज भी इस बात को स्वीकार नहीं कर पा रही कि एक आदिवासी महिला इस देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद को सुशोभित कर रही हैं ।

सोनिया गांधी द्वारा नियुक्त नेता सदन अधीर रंजन ने द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्र की पत्नी के रूप में संबोधित किया ।  उन्होंने आरोप लगाया कि द्रौपदी मुर्मू को जब राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया गया तभी से कांग्रेस उनका उपहास कर रही है और इस क्रम में उसने उन्हें कभी कठपुतली तो कभी अशुभ और अमंगल का प्रतीक कहा । कांग्रेस का इस हद तक गिर जाना... देश के शीर्ष संवैधानिक पद पर आसीन एक आदिवासी और गरीब परिवार की महिला का इस प्रकार से अनादर करना... उनकी गरिमा को ठेस पहुंचाना... कांग्रेस ने सोनिया गांधी की अध्यक्षता में यह संस्काररहित, मूल्यविहीन एवं संविधान को चोट पहुंचाने वाला काम किया है । उन्होंने कहा कि संसद में और सड़क पर कांग्रेस और उनके नेताओं को देश की प्रथम नागरिक और देश से माफी मांगनी चाहिए । कुछ ऐसा ही हाल राज्यसभा में रहा जहां भाजपा सांसद पीयूष गोयल ने कांग्रेस पर हल्ला बोलते हुए , इस बयान की जमकर निंदा की ।

हंगामे के बाद सदन स्थगित 

अन्य दिनों की तुलना में आज लोकसभा में अधीर रंजन की टिप्पणी को लेकर खूब हंगामा हुआ । जहां राज्यसभा में हंगामे के चलते आम आदमी पार्टी के दो सांसद सांसद सुशील गुप्ता , संदीप पाठक को सस्पेंड किया गया तो एक निर्दलीय सांसद निर्दलीय अजीत कुमार भुईंया को भी सस्पेंड कर दिया गया । लोकसभा में स्मृति ईरानी ने कहा कि देश के गरीब लोगों और आदिवासियों से अधीर रंजन चौधरी और कांग्रेस पार्टी को माफी मांगनी चाहिए । संसद में हुए हंगामें के बाद सदन की कार्रवाई स्थगित कर दी गई ।  

अधीर रंजन ने संसद में अपनी बात रखने की इजाजत मांगी

बहरहाल , इस पूरे हंगामे के बीच अधीर रंजन चौधरी ने अपने बयान पर खेद जताते हुए कहा कि मेरे मुंह से एक बार गलती से , सिर्फ एक बार गलती से यह बात निकल गई , जो गलत है । देश की राष्ट्रपति , हम सबकी राष्ट्रपति है । मेरे मुंह से जो भी गलती से निकला , उसे अब आगे नहीं बढ़ाना चाहिए । इसके बाद चौधरी ने स्पीकर से संसद में अपनी बात रखने का समय मांगा है ।  

Todays Beets: