Sunday, February 5, 2023

Breaking News

   Supreme Court: कलेजियम की सिफारिशों को रोके रखना लोकतंत्र के लिए घातक: जस्टिस नरीमन     ||   Ghaziabad: NGT के फैसले पर नगर निगम को SC की फटकार, 1 करोड़ जमा कराने की शर्त पर वूसली कार्रवाई से राहत     ||   दिल्लीः फ्लाइट में स्पाइसजेट की क्रू के साथ अभद्रता के मामले में एक्शन, आरोपी गिरफ्तार     ||   मोरबी ब्रिज हादसा: ओरेवा ग्रुप के मालिक जयसुख पटेल के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी     ||   भारत जोड़ो यात्राः राहुल गांधी बोले- हम चाहते हैं कि बहाल हो जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा     ||   MP में नहीं माने बजरंग दल और हिंदू जागरण मंच, 'पठान' की रिलीज के विरोध का किया ऐलान     ||   समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्या पर लखनऊ में FIR     ||   बजरंग पुनिया बोले - Oversight Committee बनाने से पहले हम से कोई परामर्श नहीं किया गया     ||   यमुना एक्सप्रेस-वे पर कोहरे की वजह से 15 दिसंबर से स्पीड लिमिट कम कर दी जाएगी     ||   भारत की यात्रा करने वाले ब्रिटेन के नागरिकों के लिए ई-वीजा सुविधा फिर से शुरू     ||

चीन में जिनपिंग के खिलाफ बगावत! , कोरोना पॉलिसी के विरोध में सड़कों पर उतरी भीड़ , कई शहरों में हिंसा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
चीन में जिनपिंग के खिलाफ बगावत! , कोरोना पॉलिसी के विरोध में सड़कों पर उतरी भीड़ , कई शहरों में हिंसा

न्यूज डेस्क । भले ही दुनिया इस समय कोरोना काल से बाहर निकल आई है , लेकिन चीन में स्थिति इस समय बहुत ज्यादा खराब नजर आ रही है । कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर इन दिनों चीन के कई शहरों में लॉकडाउन लगा हुआ है , जिसका विरोध करते हुए हजारों की संख्या में स्थानीय लोग अब सड़कों पर नजर आने लगे हैं । राष्ट्रपति शी जिनपिंग की नीतियों के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोगों ने सरकार के खिलाफ न सिर्फ प्रदर्शन शुरू कर दिया है , बल्कि जिनपिंग कुर्सी छोड़ो के नारे लगाने भी शुरू कर दिए हैं । मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक , शंघाई शहर में ऐसे ही प्रदर्शनकारियों ने सरेआम 'शी जिनपिंग, पद छोड़ो' और 'कम्युनिस्ट पार्टी सत्ता छोड़ो' के नारे लगाए । वहीं खबर यह भी है कि कोविड प्रतिबंधों से नाराज लोगों ने हाल ही में झेंग्झौ से ग्वांगझू तक भी हिंसक विरोध प्रदर्शन किए थे । 

हजारों लोग सड़कों पर

विदित हो कि चीन में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर फिर से काफी सख्ती बरती जा रही है । कोरोना वायरस (Coronavirus) मामलों के बीच कई शहरों में लॉकडाउन (Lockdown) लगाया गया है , जिसके विरोध में अब जनता सड़कों पर आने लगी है । चीन के कई शहरों में लोग सड़कों पर उतर गए हैं और शी जिनपिंग (Xi Jinping) सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं ।  


चीन में सबसे बड़ी 'बगावत'

बता दें कि बीजिंग और शंघाई समेत चीन के कई शहरों में कोविड-19 की वजह से लगाए गए लॉकडाउन का विरोध हो रहा है । शंघाई में तो जब हजारों प्रदर्शनकारी सड़क पर उतरे तो पुलिस ने उनके साथ सख्ती की । कई लोगों को यहां पुलिस की कारों में बांध दिया गया । बीजिंग और नानजिंग सहित अन्य जगहों पर भी छात्रों ने यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन किया । वहीं इस समय पुलिस चीनी सरकार के खिलाफ नारे लगाने वालों को पुलिस ढूंढ रही है. हालांकि, लॉकडाउन के कारण चीन के कई शहरों में नागरिक गुस्से में हैं और सड़कों पर उतर आए हैं ।

नहीं पसंद आ रही कोविड पॉलिसी

असल में चीन के लोगों के इस बार राष्ट्रपति शी जिनपिंग की सख्त जीरो कोविड पॉलिसी (Zero Covid Policy) पसंद नहीं आ रही है । हजारों प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतरकर पुलिस के सामने सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं । पुलिस, प्रदर्शनकारियों को रोकने में लगी हुई है, लेकिन हालात बेकाबू हो रहे हैं । 

10 लोगों की मौत!

रिपोर्ट के अनुसार, चीन के नॉर्थ-वेस्ट शहर उरुमकी में भी विरोध प्रदर्शन के बाद अशांति है । यहां एक टावर ब्लॉक में आग लगने के कारण 10 लोगों की मौत हो गई , जिसका जिम्मेदार लोग लॉकडाउन नियमों को ठहरा रहे हैं । हालांकि, चीनी अधिकारियों ने इस बात से इनकार किया है कि कोविड प्रतिबंधों की वजह से लोगों की मौत हुई । इतना ही नहीं गत शनिवार को शंघाई में जोरदार विरोध प्रदर्शन हुआ । प्रदर्शनकारियों ने यहां खुलेआम 'शी जिनपिंग, पद छोड़ो' और 'कम्युनिस्ट पार्टी सत्ता छोड़ो' के नारे लगाए । प्रदर्शनकारियों के हाथ में यहां बैनर भी थे । गौरतलब है कि चीन में इस तरह का प्रदर्शन और शी जिनपिंग के खिलाफ खुलेआम नारे लगना आम बात नहीं है । चीन में सरकार और राष्ट्रपति की सीधी आलोचना करने पर कड़ी सजा दी जाती है।

Todays Beets: