Tuesday, October 4, 2022

Breaking News

   MHA ने NIA के 2 नए विंग को दी मंजूरी, 142 जांच अधिकारी-कर्मचारी बढ़ाए     ||   पाकिस्तान को बाढ़ से निपटने के लिए 10 अरब डॉलर की जरूरत, मंत्री का बयान     ||   सुप्रीम कोर्ट ने 1992 बाबरी मस्जिद विध्वंस से जुड़े सभी मामलो को बंद किया     ||   मनीष के घर-लॉकर से कुछ नहीं मिला, ईमानदार साबित हुए: CM केजरीवाल     ||   दिल्ली: JP नड्डा को बताना चाहता हूं, बच्चा चुराने लगी है BJP- मनीष सिसोदिया     ||   टेस्ला के मालिक एलन मस्क को कोर्ट में घसीटने की तैयारी, ट्विटर संग होगी कानूनी जंग    ||   गोवा में कांग्रेस पर सियासी संकट! सोनिया ने खुद संभाला मोर्चा    ||   जयललिता की पार्टी में वर्चस्व की जंग हारे पनीरसेल्वम, हंगामे के बीच पलानीस्वामी बने अंतरिम महासचिव     ||   देशभर में मानसून एक्टिव हो गया है और ज्यादातर राज्यों में जोरदार बारिश हो रही है. भारी बारिश ने देश के बड़े हिस्से में तबाही मचाई है    ||   अगले साल अंतरिक्ष जाएंगे भारतीय , एक या दो भारतीयों को भेजने की योजना है     ||

उत्तर प्रदेश - आयकर विभाग ने सुबे में 22 ठिकानों पर मारी रेड , भ्रष्ट अफसरों पर नकेल कसने की तैयारी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तर प्रदेश - आयकर विभाग ने सुबे में 22 ठिकानों पर मारी रेड , भ्रष्ट अफसरों पर नकेल कसने की तैयारी

लखनऊ । UP Income Tax Raid । उत्तर प्रदेश में एक बार फिर से भ्रष्ट अफसरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होती नजर आ रही है । इस बार आयकर विभाग ने बुधवार सुबह यूपी के 22 ठिकानों समेत दिल्ली में छापेमारी की कार्रवाई को अंजाम दिया है । आईटी विभाग की यह कार्यवाही सुबे के कुछ भ्रष्ट अफसरों और विभिन्न विभागों में काम करने वाले वरिष्ठ अफसरों पर शिकंजा कसने के लिए की जा रही है । इनके साथ-साथ कई ठेकेदारों पर भी आयकर विभाग ने ताबड़तोड़ छापेमारी की है । सूत्रों का कहना है कि यूपी के करीब 12 से ज्यादा नौकरशाह ऐसे हैं , जिनपर आयकर विभाग की नजर है । ऐसी सूचना है कि ये अधिकारी उद्योग विभाग, उद्धमिता विकास संस्थान, उद्धमिता प्रशिक्षण संस्थान, यूपी इंडस्ट्रियल कंसल्टेंट लिमिटेड, प्राइवेट सेक्टर व कुछ अन्य सेक्टर से हैं । 

विदित हो कि इन दिनों आयकर विभाग देश में कई जगहों पर भ्रष्ट अफसरों समेत कुछ अन्य लोगों पर शिकंजा कस रही है । इस अगस्त माह में ही अब तक कई राज्यों में ताबड़तोड़ छापेमारी की कार्रवाई को अंजाम दिया जा चुका है । गत दिनों गुजरात के एक अहम कारोबारी समूह की तलाशी में 1,000 करोड़ रुपये से अधिक के बेहिसाब लेनदेन का पता चला था । इसके बाद आईटी विभाग ने खेड़ा, अहमदाबाद, मुंबई, हैदराबाद और कोलकाता में फैले 58 परिसरों में छापेमारी करीब चार से पांच दिनों तक चली थी । 

जबकि महाराष्ट्र के जालना में एक व्यवसायी के परिसर पर छापेमारी में आयकर विभाग ने 390 करोड़ रुपये की नकदी और कीमती सामान जब्त किया था ।  260 अधिकारियों की आयकर विभाग की पांच टीमों ने एक हफ्ते तक छापेमारी की । इस छापेमारी को अंजाम देने के लिए एजेंसी ने 120 वाहनों का इस्तेमाल किया । उन्होंने करीब 58 करोड़ रुपये नकद, 32 किलो सोना और कीमती स्टोन जब्त किए. कैश गिनने में 13 घंटे लग गए थे । 


इतना ही नहीं जयपुर के एक समूह के परिसरों पर भी गत दिनों तलाशी अभियान चलाया गया था , जिसमें सामने आया था कि समूह ने आवासीय घरों और जमीन की बिक्री पर नकद स्वीकार करके बड़े पैमाने पर कर चोरी की। 

बहरहाल , इस समय लखनऊ , कानपुर समेत यूपी के कुछ अन्य शहरों में आयकर विभाग की छापेमारी जारी है । इस समय भ्रष्ट अफसरों के ठिकानों पर छापेमारी कर अब दस्तावेज खंगाले जा रहे हैं । 

 

Todays Beets: