Tuesday, November 30, 2021

Breaking News

   टीम इंडिया भी रद्द कर सकती है साउथ अफ्रीका दौरा? इस वजह से बढ़ी टेंशन     ||   CJI सीजेआई ने सरकार को दी ये नसीहत, कहा- तभी निडर होकर काम कर पाएंगे जज     ||   DNA: अमेरिका की महागरीबी का विश्लेषण, 17 प्रतिशत आबादी है गरीबी रेखा से नीचे     ||   कृषि कानूनों को रद्द करने का रास्ता साफ, लोक सभा में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर पेश करेंगे बिल     ||   52वां इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया 20 से 28 नवंबर तक गोवा में होगा     ||   पीएम मोदी की अपील- मेड इन इंडिया सामान खरीदने पर जोर दें, इसके लिए सब प्रयास करें     ||   भारत में 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर बिल गेट्स ने दी पीएम मोदी को बधाई     ||   सेना की 39 महिला अफसरों की बड़ी जीत, मिलेगा स्थायी कमीशन; SC ने दिया आदेश     ||   बिहार में महागठबंधन टूटा, कांग्रेस का ऐलान 2024 के आम चुनाव में सभी 40 सीटों पर लड़ेगी पार्टी     ||   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||

निशा दहिया हत्याकांड - हत्यारोपी कोच पवन को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने द्वारका से दबोचा , साथी सचिन भी गिरफ्तार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
निशा दहिया हत्याकांड - हत्यारोपी कोच पवन को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने द्वारका से दबोचा , साथी सचिन भी गिरफ्तार

नई दिल्ली । हरियाणा के सोनीपत में हुए पहलवान निशा दहिया हत्याकांड में आखिरकार दिल्ली पुलिस को बड़ी सफलता मिल गई है । दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इस हत्याकांड को अंजाम देने वाले रेस्लर निशा के कोच पवन और उसके साथी सचिन को दिल्ली के द्वारका से गिरफ्तार कर लिया है । असल में पवन हत्यकांड को अंजाम देने के बाद सचिन की बाइक से ही फरार हुआ था । इन दोनों पर एक लाख रुपये का इनाम रखा गया था । इस दौरान स्पे्शल सेल ने पवन के पास से उसकी लाइसेंसी पिस्तौल भी  बरामद की है । सचिन का आपराधिक रिकॉर्ड भी है ।  

बता दें कि गत दिनों हरियाणा के सोनीपत स्थित गांव हलालपुर में पहलवान सुशील कुमार के नाम से एकेडमी चलाने वाले पवन ने अपनी शिष्या पहलान निशा उसके भाई और मां को गोली मार दी थी । इस घटना में पहलवान निशा और उसके भाई की गोली लगने से मौत हो गई थी , जबकि मां अभी भी गंभीर अवस्था में जिंदगी से जूझ रही है । 

घटनाक्रम को लेकर जो बात सामने आई है इसके अनुसार , कोच पवन ने महिला पहलवान निशा की मान धनवति को फोन करके कहा कि उन्होंने उनकी बेटी को चैंपियन बना दिया है , वह अपनी बेटी को लेने आ जाए । इस फोन को सुनने के बाद घबराई मां ने अपने बेटे सचिन को एकादमी चलने को कहा । 


अभी दोनों रास्ते में ही पहुंचे थे कि उन्होंने देखा कि उनकी बेटी निशा के पीछे कोच पवन और कुछ लोग भाग रहे थे । इसके बाद पवन ने निशा दहिया को 4 गोलियां मार दी । बीच बचाव करने पर पवन ने निशा के भाई सचिन को 3 गोलियां मारी , जिससे दोनों की मौत हो गई । इतना ही नहीं पवन ने इन दोनों की मां को भी गोली मार दी । 

निशा की मां का कहना है कि पवन कहता था कि वह निशा को स्टार बना देगा । इतना ही नहीं वह निशा के साथ छेड़छाड़ भी करता था । इसकी शिकायत निशा ने अपने परिजनों से की थी , जिसका परिजनों ने भी विरोध किया था । इतना ही नहीं पवन ने निशा के परिजनों से 3.50 लाख रुपये लिए थे । उसने निशा के पिता ये एकादमी बनाने के नाम पर यह पैसा लिया था । इतना ही नहीं एक चैंपियनशिप जीतने पर उसे मिले 50 हजार रुपये भी निशा के पिता ने कोच पवन को ही दे दिए थे । 

Todays Beets: