Saturday, January 29, 2022

Breaking News

   बिहार: खान सर के समर्थन में उतरे पप्पू यादव, बोले- शिक्षकों पर केस दुर्भाग्यपूर्ण     ||   पंजाब: राहुल गांधी ने स्वर्ण मंदिर में माथा टेका, CM चन्नी और नवजोत सिंह सिद्धू भी साथ     ||   UP: मथुरा में बोले गृह मंत्री अमित शाह- माफिया पर कार्रवाई से अखिलेश को दर्द हुआ     ||   सीएम योगी का सपा पर तंज- जो लोग फ्री बिजली देने की बात कर रहे, उन्होंने UP को अंधेरे में रखा     ||   अरुणाचल प्रदेश से कई दिनों से लापता छात्र चीनी सेना को मिला, भारतीय सेना को दी गई जानकारी     ||   हैदराबाद: उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू कोरोना पॉजिटिव, एक हफ्ते तक आइसोलेशन में रहेंगे     ||   नेताजी की प्रतिमा का पीएम मोदी ने किया अनावरण, कहा- हमारे सामने नए भारत के निर्माण का लक्ष्य     ||   'यूपी में सबसे ज्यादा महिलाएं असुरक्षित हैं', अखिलेश यादव का बीजेपी पर अटैक     ||   दुख की बात है कि हमारे वीर जवानों के लिए जो अमर ज्योति जलती थी, उसे आज बुझा दिया जाएगा- राहुल गांधी     ||   चन्नी चमकौर साहिब से चुनाव हार रहे हैं, ED को गड्डी गिनता देख लोग सदमे में हैं- अरविंद केजरीवाल     ||

अब VVIP की सुरक्षा को लेकर बनी खास रणनीति , चुनावी रैली - दौरे से पहले ASL अफसर करेंगे मौका - मुआयना

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब VVIP की सुरक्षा को लेकर बनी खास रणनीति , चुनावी रैली - दौरे से पहले ASL अफसर करेंगे मौका - मुआयना

नई दिल्ली । पंजाब में पीएम नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में हुई चूक के मामले से सीख लेते हुए अब देश के VVIP की सुरक्षा को लेकर नई रणनीति बनाई गई है । मौजूदा समय में जिन राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं , ऐसे में राज्यों में इन VVIP के दौरे को लेकर अब अर्धसैनिक बलों (Paramilitary forces) के वरिष्ठ अधिकारी भी तैनात की जाएगी । मिली जानकरी के अनुसार , अब अतिरिक्त Advanced security liasion (ASL) के अधिकारियों को प्रधानमंत्री समेत दूसरे VVIP के दौरे से पहले ही उन राज्यों में भेजा जाएगा ताकि वहां पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम सुनिश्चित किये जा सकें। वहीं सुप्रीम कोर्ट में आज पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक के मामले की दोबारा से सुनवाई होगी । पिछली बार कोर्ट ने पंजाब सरकार और केंद्र की एक साझा कमेटी बनाने का सुझाव दिया था , साथ ही सभी सबूतों को सुरक्षित रखने के लिए कहा था। 

मिली जानकारी के अनुसार , अब वीवीआईपी की सुरक्षा को लेकर नई कवायद की गई है । पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर राज्यों में अर्धसैनिक बलों को कंट्रोल रूम सेट करने को कहा गया है ।  स्पेशल टीम जालंधर, चंडीगढ़, लुधियाना, लखनऊ, इम्फल और कानपुर में तैनात की जाएंगी । इससे पीएम समेत सभी वीवीआईपी की सुरक्षा को और बेहतर किया जा सके । ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि फिर से पंजाब जैसे हालात पैदा न हो सकें। इन टीमों के पास अतिरिक्त फोर्स का भी इंतजाम होगा । 


खबर है कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने उत्तर प्रदेश चुनाव (UP Election 2022) को ध्यान में रखते हुए शुरुआत में ही 225 केंद्रीय अर्ध सैनिक बल की तैनाती की मंजूरी दे दी है । इसके बाद20 तारीख तक यह फोर्स उत्तर प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में तैनात हो जाएगी । CRPF की 70 कंपनी, बीएसएफ की 65 कंपनी की तैनाती का फैसला हुआ है । वहीं अन्य बलों की 90 कंपनी की तैनाती अलग से की गई है ।  इस फोर्स की तैनाती आज से शुरु होने की बात सामने आई है । 

 

Todays Beets: