Saturday, August 8, 2020

Breaking News

   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||   कानपुर गोलीकांड की जांच के लिए एसआईटी गठित, 31 जुलाई तक सौंपनी होगी रिपोर्ट     ||   धमकी देकर फरीदाबाद में रिश्तेदार के घर रुका था विकास, अमर दुबे से हुआ था झगड़ा     ||   राजस्थान: विधायकों को राज्य से बाहर जाने से रोकने के लिए सीमा पर बढ़ाई गई चौकसी     ||   हार्दिक पटेल गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त     ||   गुवाहाटी केंद्रीय जेल में बंद आरटीआई कार्यकर्ता अखिल गोगोई समेत 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव     ||   अमिताभ बच्चन कोरोना पॉजिटिव, नानावती अस्पताल में कराए गए भर्ती     ||   राजस्थान सरकार का प्राइवेट स्कूलों को आदेश- स्कूल खुलने तक फीस न लें     ||   गुजरात सरकार में मंत्री रमन पाटकर कोरोना वायरस से संक्रमित     ||   विकास दुबे पर पुलिस की नाकामी से भड़के योगी, खुद रख रहे ऑपरेशन पर नजर!     ||

अयोध्या में राममंदिर निर्माण का भूमिपूजन 5 अगस्त को! , ट्रस्ट की बैठक में आज हो सकता है ऐलान

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अयोध्या में राममंदिर निर्माण का भूमिपूजन 5 अगस्त को! , ट्रस्ट की बैठक में आज हो सकता है ऐलान

लखनऊ । अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए अब से थोड़ी देर बाद रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की बैठक होने वाली है । हालांकि इससे पहले सूत्रों का कहना है कि अयोध्या में कई दशकों से जिस मंदिर निर्माण का इंतजार किया जा रहा है , उसका भूमिपूजन आगामी 5 अगस्त से होने जा रहा है । इस बारे में ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने एक राय बना ली है । आज होने वाली बैठक के बाद संभव है कि इसका ऐलान कर दिया जाए । सूत्रों का कहना है कि आगामी 5 अगस्त को भूमि पूजन होने के बाद मंदिर निर्माण के कार्य में बहुत तेजी लाई जाएगी । 

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट से ऐतिहासिक फैसला आने के बाद , कोर्ट ने अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए एक ट्रस्ट बनाने के आदेश दिए थे । इसी ट्रस्ट को तय करना था कि राम मंदिर निर्माण के लिए आगे की क्या रणनीति होगी । सुप्रीम कोर्ट के इस सुप्रीम फैसले के बाद से ही लोगों को इस बात का इंतजार था कि आखिर किस तारीख को मंदिर निर्माण का भूमिपूजन होगा । 


बहरहाल , अब सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि आगामी 5 अगस्त वह दिन होगा , जब देश के करोड़ों रामभक्तों को मनचाही मुराद पूरी होगी । असल में मंदिर निर्माण के लिए पिछले कई सालों से पिलर बनाने और उनपर नक्काशी का काम किया जा रहा है । अयोध्या में श्रीराम का दोमंजिला मंदिर 2 साल के भीतर बना लिया जाएगा । 

Todays Beets: