Monday, March 30, 2020

Breaking News

   भोपाल की बडी झील में पलटी आईपीएस अधिकारियों की नाव, कोई जनहानी नहीं    ||   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||

इमरान खान ने विश्व समुदाय से लगाई गुहार , अपना लोन माफ करके हमें कोरोना से लड़ने में मदद करें

अंग्वाल न्यूज डेस्क
इमरान खान ने विश्व समुदाय से लगाई गुहार , अपना लोन माफ करके हमें कोरोना से लड़ने में मदद करें

नई दिल्ली । आतंकपोषित राष्ट्र की छवि के साथ दुनिया के सामने कई बार अपने लिए आर्थिक पैकेज की गुहार लगाने वाले पाकिस्तान ने , अब कोरोना वायरस को अपनी आर्थिक बदहाली में मदद का रास्ता बनाया है । पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने विश्वसमुदाय से अपील की है कि वह पाकिस्तान को दिए गए लोन को माफ करके उन्हें इस महामारी से निपटने में उनकी मदद करें । उन्होंने विदेशी मीडिया से बात करते हुए कहा कि कोरोना का विस्तार जिस तरह से फैल रहा है , हमारे पास उससे निपटने के लिए चिकित्सीय सुविधाएं नहीं हैं । ऐसे में विश्व समुदाय को हमारी ओर देखना चाहिए । इमरान खान आज शाम पाकिस्तान की जनता को भी इस समस्या को लेकर संबोधित करेंगे ।

बता दें कि कोरोना वायरस के चलते मंगलवार को पाकिस्तान में भी एक शख्स की मौत हो गई है , वहीं 180 से ज्यादा लोगों के संक्रमित होने की खबर है । इस सबके बीच पाकिस्तानी पीएम इमरान खान ने अपने एक बयान में कहा कि इस समय अपने देश की आर्थिक स्थिति के बीच कोरोना वायरस व्यापक नुकसानदायक साबित हो सकता है । उन्होंने कहा की हमारे देश में हेल्थ फैसिलिटी अच्छी नहीं है , न केवल हमारी बल्कि भारत और सब कॉन्टीनेंट , अफ्रीक्रन देशों में स्थिति अच्छी नहीं है । 

हमारी और दुनिया में आर्थिक मंदी के चलते मेरी सबसे बड़ी चिंता है गरीबी और भुखमरी की । ऐसे में हम विश्व समुदाय की ओर देख रहे हैं । इस दौरान उन्होंने इरान का उदाहरण देते हुए स्थिति खराब होने की बात कही । उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की वजह से गरीब देशों की अर्थव्यवस्था पर असर पड़ेगा । अगर यहां पर हालात बिगड़ते हैं तो मेडिकल व्यवस्था नहीं संभाल पाएगी, ऐसा सिर्फ पाकिस्तान ही नहीं बल्कि भारत में भी होगा । 


इमरान खान ने कहा कि यही कारण है कि बड़े देशों को छोटे देशों की मदद करनी चाहिए और आर्थिक मदद देनी चाहिए ।  पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने ईरान का उदाहरण दिया और कहा कि ईरान पर सैंक्शन लगे हुए हैं, इस वजह से वहां पर मौतें हो रही हैं ।

पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान के ये हाल तब हैं जब पिछले दिनों पीएम नरेंद्र मोदी ने सार्क देशों के सदस्यों के प्रधानमंत्रियों की एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग आयोजित की थी , जिसमें इमरान ने खुद न आते हुए अपने एक जूनियर मंत्री को भेज दिया । पाकिस्तान सरकार की नासमझी तब नजर आई , जब इमरान खान का प्रतिनिधित्व करने आया यह मंत्री कोरोना को लेकर बुलाई गई इस कॉफ्रेंसिंग में जम्मू-कश्मीर का राग अलापा देखा गया । 

Todays Beets: