Thursday, January 23, 2020

Breaking News

   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||   रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में चूक, मोटरसाइकिल काफिले के सामने आया शख्स     ||

संजय राउत के  नागरिक संशोधन बिल पर राज्यसभा में यू टर्न लेने के दिए संकेत , मोदी सरकार का बिगड़ेगा गणित 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
संजय राउत के  नागरिक संशोधन बिल पर राज्यसभा में यू टर्न लेने के दिए संकेत , मोदी सरकार का बिगड़ेगा गणित 

नई दिल्ली । मोदी सरकार ने सोमवार रात लोकसभा में नागरिक संशोधन बिल को पास करवा लिया । लोकसभा में करीब 12 घंटे की बहस के बाद देर रात यह विधेयक लोकसभा में पारित हो गया है , जिसमें बीजद , जदयू , एआईएडीएमके के साथ ही शिवसेना ने भी अपना समर्थन दिया । हालांकि राज्यसभा में इस बिल का समर्थन करने से पहले शिवसेना नेता संजय राउत का एक बयान आया है , जो मोदी सरकार के इस बिल को राज्यसभा में अटका सकता है । संजय राउत ने अपने बयान में कहा- हमने लोकसभा में बिल का समर्थन किया है , लेकिन हम राज्यसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक पर अलग विचार रख सखते हैं । उनके इस बयान के बाद भाजपा की थोड़ी चिंता बढ़ी है , क्योंकि राज्यसभा में शिवसेना के तीन सदस्य है, जिनके इस विधेयक के पक्ष में वोट न डालने के चलते मोदी सरकार का गणित बिगड़ सकता है । 

बता दें कि पिछले दिनों महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर उभरे मतभेदों के बीच भाजपा और शिवसेना के बीच काफी बयानबाजी हुई , जिसके चलते दोनों दलों ने नेताओं ने एक दूसरे पर कई गंभीर आरोप लगाए । इस सब के बावजूद लोकसभा में नागरिक संशोधन बिल को शिवसेना ने अपने समर्थन दिया , हालांकि लोकसभा में उनके बिना भी भाजपा आसानी से इस बिल पर समर्थन जुटा सकती थी । 


लेकिन सोमवार देर रात लोकसभा से इस विधेयक के पारित होने के बाद अब बुधवार यानी कल यह विधेयक राज्यसभा में पेश किया जाएगा । इस सब से पहले शिवसेना नेता के एक बयान ने मोदी सरकार को झटका दिया है । संजय राउत ने कहा भले ही हमने लोकसभा में इस बिल का समर्थन किया हो लेकिन राज्यसभा में हम अलग राय भी रख सकते हैं । 

अगर ऐसा हुआ तो मोदी सरकार का राज्यसभा में नंबर गेम बिगड़ सकता है । फिलहाल, मोदी सरकार के सपोर्ट में 119 सदस्य हैं, जबकि विपक्ष में 100 सदस्य हैं । शिवसेना को जोड़ ले तो यह आंकड़ा 103 हो जाता है। वहीं 19 राज्यसभा सदस्यों का रुख साफ नहीं है ।  

Todays Beets: