Monday, August 26, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

पूर्व IAS और JKPM अध्यक्ष शाह फैसल को विदेश जाने से रोका, दिल्ली एयरपोर्ट पर हिरासत में लेकर वापस श्रीनगर भेजा

अंग्वाल संवाददाता
पूर्व IAS और JKPM अध्यक्ष शाह फैसल को विदेश जाने से रोका, दिल्ली एयरपोर्ट पर हिरासत में लेकर वापस श्रीनगर भेजा

नई दिल्ली । दिल्ली पुलिस ने बुधवार को पूर्व IAS अधिकारी और जम्मू-कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट के अध्यक्ष शाह फैसल को दिल्ली एयरपोर्ट से हिरासत में ले लिया। मिली खबरों के अनुसार , वह विदेश जाने के लिए आईजीआई एयरपोर्ट आए थे लेकिन पुलिस ने उन्हें एयरपोर्ट से वापस कश्मीर भेज दिया है । इसके साथ ही शाह फैसल को घर में नजरबंद भी कर दिया गया है । जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 के प्रावधान हटाए जाने के बाद से शाह फैलस लगातार विवादित बयान दिए जा रहे थे । उन्हें हिरासत में लिए जाने और अब नजरबंद किए जाने के पीछे तर्क दिया गया है कि उनके खिलाफ कार्रवाई पब्लिक सेफ्टी एक्ट(पीएसए) के तहत हुई है । 

बता दें कि ऐसे समय में जब जम्मू कश्मीर से केंद्र सरकार ने अनुच्छेद 370 हटा दिया है , पाकिस्तान समेत घाटी के कुछ अलगाववादी मामला गर्माने की फिराक में हैं। वह लोगों को भड़काने के लिए घाटी से बाहर जमकर बयान दे रहे हैं। इस सब के बीच खबर मिली थी कि जम्मू-कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट के अध्यक्ष शाह फैसल नई दिल्ली से इंस्तांबुल जाने वाले हैं । इस पर आईजीआई एयरपोर्ट पर अफसरों ने फैसल को पीएसए के तहत हिरासत में लिया । इतना ही नहीं उन्हें एयरपोर्ट से श्रीनगर भेज दिया गया था , लेकिन वहां उतरते ही उन्हें हिरासत में लेकर घर पर नजरबंद कर दिया गया है । 

असल में घाटी से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद शाह फैसल ने कहा था कि हमारे सामने दो ही रास्ते हैं । कश्मीर कठपुतली बने या अलगाववादी । इसके अलावा कोई विकल्प नहीं है । शाह फैसल ने कहा था कि राजनीतिक अधिकारों को दोबारा पाने के लिए कश्मीर को लंबे, निरंतर और अहिंसक राजनीतिक आंदोलन की जरूरत है । 


इतना ही नहीं ईंद वाले दिन भी फैसल ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि कश्मीर में ईद नहीं है , पूरी दुनिया में कश्मीर के लोग अपनी जमीन के गलत तरीके से भारत में शामिल होने से रो रहे हैं ।  हमारे यहां तब तक ईद नहीं होगी जब तक 1947 से मिला विशेष राज्य का दर्जा हमें वापस नहीं किया जाएगा । 

 

Todays Beets: