Tuesday, July 16, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

LIVE - सुप्रीम कोर्ट ने राजीव कुमार की गिरफ्तार पर रोक लगाई, CBI के सामने पेश होने के दिए आदेश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
LIVE - सुप्रीम कोर्ट ने राजीव कुमार की गिरफ्तार पर रोक लगाई, CBI के सामने पेश होने के दिए आदेश

नई दिल्ली। चिटफंड मामले में सीबीआई बनाम ममता बनर्जी सरकार सरकार का गतिरोध खत्मम होने का नाम नहीं ले रहा है। सीबीआई की सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने मंगलवार को आदेश दिया कि कोलकाता के पुलिस कमिशनर राजीव कुमार की गिरफ्तारी नहीं होगी, हालाकि कोर्ट ने इस दौरान पुलिस कमिश्नर को आदेश दिया कि वह सीबीआई के सामने पेश हों। सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि राजीव कुमार को शिलांग में सीबीआई के सामने पेश होना होगा। इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पुलिस कमिश्नर को जांच में सहयोग करना चाहिए। 

बता दें कि सीबीआई ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में दो याचिकाएँ दायर की थी, जिसमें एक कोर्ट की अवमानना का मामला था जबकि दूसरे में चिटफंड मामले में निर्देष देने की मांग की गई थी। कोर्ट ने इन याचिकाओं पर विस्तार से चर्चा करने की बात कहते हुए इसकी सुनवाई के लिए मंगलवार का दिन निर्धारित किया था। मंगलवार को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने आदेश दिया कि चिटफंड मामले में एसआईटी के प्रमुख रहे कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को सीबीआई के सामने पेश होना चाहिए और उन्हें जांच में सहयोग करना चाहिए। कोर्ट ने कहा कि उन्हें शिलांग में सीबीआई के ऑफिस में पूछताछ के लिए जाना होगा। 


सीजेआई ने कहा कि राजीव कुमार को पूछताछ से कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए। हम नोटिस जारी किए बिना अवमानना नहीं कर सकते हैं। अवमानना तय करने के लिए हमें दूसरे पक्ष को भी सुनना होगा।

Todays Beets: