Tuesday, January 28, 2020

Breaking News

   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||   रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में चूक, मोटरसाइकिल काफिले के सामने आया शख्स     ||

VHP की धर्मसंसद से पहले योगी आदित्यनाथ RSS प्रमुख मोहन भागवत से मिलने पहुंचे

अंग्वाल न्यूज डेस्क
VHP की धर्मसंसद से पहले योगी आदित्यनाथ RSS प्रमुख मोहन भागवत से मिलने पहुंचे

प्रयागराज । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को प्रयागराज में संघ प्रमुख मोहन भागवत से मिलने पहुंचे हैं। उनकी इस मुलाकात को इसलिए भी अहम माना जा रहा क्योंकि आज विश्व हिन्दू परिषद की भी एक धर्म संसद प्रयागराज में होने जा रही है, जिसमें करीब 2000 संतों को आमंत्रण भेजा गया है। कयास लगाए जा रहे हैं कि योगी संघ प्रमुख मोहन भागवत से मुलाकात के दौरान राम जन्मभूमि के मुद्दे के साथ ही राममंदिर निर्माण को लेकर परम धर्मसंसद में लिए गए फैसले पर चर्चा करेंगे। 

बता दें कि बुधवार को प्रयागराज में हुई परम धर्मसंसद में शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती की अगुवाई में फैसला लिया गया था कि बसंत पंचमी के बाद साधु संत अयोध्या की ओर कूच करेंगे। इस धर्मसंसद में धर्मादेश दिए गया कि 21 फरवरी को राम मंदिर निर्माण की आधार शिला रखी जाएगी । इस सब के बाद गुरुवार को VHP की धर्म संसद होने जा रही है। इस सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ संघ प्रमुख मोहन भागवत से मुलाकात करने पहुंचे हैं। 


अब ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि दोनों धर्मसंसदों के फैसलों के अनुरूप आगे की रणनीति पर मंथन कर सकते हैं। हालांकि इससे पहले केंद्र की मोदी सरकार विवादित भूमि से इतर जमीन को रामजन्म भूमि न्यास को सौंपे जाने की मांग कर चुकी है, जिसपर भी विवाद खड़ा हो गया है। कुछ संत इसे राम जन्मभूमि से अलग मंदिर बनाने की साजिश करार दे रहे हैं तो कुछ इस मुद्दे पर नए विवाद खड़े कर रहे हैं। 

बहरहाल, अभी योगी आदित्यनाथ संघ प्रमुख से मिलने पहुंचे हैं, अब देखना होगा कि उनकी इस बातचीत के बाद क्या भाजपा कोई ऐलान कर सकती है । 

Todays Beets: