Friday, September 24, 2021

Breaking News

   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||   तालिबान की अमेरिका को धमकी, 31 अगस्त के बाद भी रही सेना तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे    ||   कर्नाटक CM से स्थानीय BJP विधायक की मांग- कोरोना के चलते किसी भी हिंदू पर्व पर ना लगे बंदिशें    ||   तेजप्रताप की नाराजगी के सवाल पर बोले तेजस्वी- राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर ही देंगे जवाब    ||   अंडमान एंड निकोबार के पोर्ट ब्लेयर में महसूस किए गए 4.3 तीव्रता के भूकंप     ||   दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कनॉट प्लेस पर भारत के पहले स्मॉग टावर का उद्घाटन किया     ||   गुजरात में शराबबंदी के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका मंजूर, 12 अक्टूबर को होगी सुनवाई     ||   सिंगापुर के स्वास्थ्य मंत्री ने चेताया, आर्थिक गतिविधियां खुलने के साथ ही बढ़ सकते हैं कोरोना के मामले     ||   पत्नी शालिनी के आरोपों पर बोले हनी सिंह- सभी आरोप गलत, कोर्ट में चल रहा केस     ||   रांचीः महिला हॉकी में झारखंड से शामिल हर खिलाड़ियों को मिलेंगे 50-50 लाख रुपयेः CM हेमंत सोरेन     ||

मुख्य सचिव से मारपीट के मामले में बरी हुए CM केजरीवाल - सिसोदिया समेत 11 विधायक , अमानतुल्ला पर आरोप तय

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मुख्य सचिव से मारपीट के मामले में बरी हुए CM केजरीवाल - सिसोदिया समेत 11 विधायक , अमानतुल्ला पर आरोप तय

नई दिल्ली । दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को बुधवार कोर्ट ने बड़ी राहत दी । दिल्ली की राउज एवेंयू कोर्ट ने पूर्व मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ मारपीट के मामले में आम आदमी पार्टी के इन दोनों नेताओं समेत कुल 11 विधायकों को बरी कर दिया है । हालांकि कोर्ट ने आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्ला खान और प्रकाश जरवाल पर आरोप तय कर दिए हैं । कोर्ट के इस फैसले के बाद केजरीवाल ने कहा - सत्यमेव जयते । 


विदित हो कि दिल्ली के मुख्य सचिव रहे अंशु प्रकाश की ओर से केजरीवाल समेत उनके कई विधायकों द्वारा मारपीट के आरोप लगाए गए थे । इस मारपीट के मामले में आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया , अमानतुल्ला खान,  प्रकाश जरवाल , ऋतुराज गोविंद , मदन लाल , दिनेश मोहनिया , राजेश ऋषि , राजेश गुप्ता , संजीव झा , अजय दत्त , नीतिन त्यागी , प्रवीण कुमार को आरोपी बनाया गया था । 

बता दें कि यह मामला फरवरी 2018 का है , तत्कालीन मुख्य सचिल अंशु प्रकाश ने आरोप लगाया कि केजरीवाल के घर आधी रात में हुई एक बैठक में बुलाया था । इस बैठक में उनके साथ आम आदमी पार्टी के विधायकों ने मारपीट की । इस दौरान सीएम केजरीवाल भी वहीं उपस्थित थे । हालांकि बाद में आम आदमी पार्टी ने सीसीटीवी फुटेज के साथ मुख्य सचिव के दावों को खारिज कर दिया था । हालांकि यह मामला हाईकोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक भी पहुंचा था । 

बहरहाल , इस मामले में आज हुई सुनवाई में जहां राउज एवेन्यू कोर्ट ने केजरीवाल समेत 10 विधायकों को आरोपों से बरी कर दिया है । वहीं अमानतुल्ला खान और प्रकाश जरवाल पर आरोप तय कर दिए हैं ।

केजरीवाल ने इस खबर के सामने आने पर एक लाइन का ट्वीट किया है....

Todays Beets: