Friday, January 22, 2021

Breaking News

   सरकार की सत्याग्रही किसानों को इधर-उधर की बातों में उलझाने की कोशिश बेकार है-राहुल गांधी     ||   थाइलैंड में साइना नेहवाल कोरोना पॉजिटिव, बैडमिंटन चैम्पियनशिप में हिस्सा लेने गई हैं विदेश     ||   एयर एशिया के विमान से पुणे से दिल्ली पहुंची कोरोना वैक्सीन की पहली खेप     ||   फिटनेस समस्या की वजह से भारत-ऑस्ट्रेलिया चौथे टेस्ट से गेंदबाज जसप्रीत बुमराह बाहर     ||   दिल्ली: हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की पार्टी विधायकों के साथ बैठक, किसान आंदोलन पर चर्चा     ||   हम अपने पसंद के समय, स्थान और लक्ष्य पर प्रतिक्रिया देने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं- आर्मी चीफ     ||   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||

NDA उम्मीदवार विजय सिन्हा बने बिहार विधानसभा के अध्यक्ष , राजद का हंगामा रहा बेअसर 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
NDA उम्मीदवार विजय सिन्हा बने बिहार विधानसभा के अध्यक्ष , राजद का हंगामा रहा बेअसर 

पटना । बिहार विधानसभा चुनावों के बाद बुधवार को स्पीकर चुनाव के लिए सदन में जमकर हंगामा हुआ । एनडीए उम्मीदवार विजय सिन्हा ने अपने प्रतिद्वंदी और महागठबंधन के नेता को 114 वोटों के मुकाबले 126 मतों से हराया । इसके साथ ही विजय सिन्हा बिहार विधानसभा के नए स्पीकर चुन लिए गए हैं । हालांकि महागठबंधन के विधायकों की ओ से चुनावी प्रक्रिया पर सवाल खड़े किए गए और गुप्त मतदान की अपील की गई. हालांकि, उनकी अपील को ठुकरा दिया गया । बिहार में ऐसा पांच दशक के बाद हुआ है, जब स्पीकर पद के लिए चुनाव हुआ हो ।

नतीजों के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने स्पीकर को उनकी कुर्सी तक पहुंचाया और बधाई दी । हालांकि इससे पहले तेजस्वी यादव ने सदन में आरोप लगाया कि आज पूरा देश देख रहा है कि खुलेआम चोरी हो रही है, अगर ऐसे सदन चलेगा तो हमें बाहर ही कर दीजिए।


इतना ही नहीं राजद ने नीतीश कुमार को स्पीकर चुनाव के लिए मतदान के दौरान सदन से बाहर रखने की मांग की थी, उनका कहना था कि जो विधानसभा का सदस्य नहीं हैं, उन्हें मतदान के वक्त मौजूद नहीं रहना चाहिए । यह कहते हुए उन्होंने नीतीश कुमार पर निशाना साधा । 

दरअसल, महागठबंधन के विधायकों की ओर से वोटिंग की प्रक्रिया पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं । राजद की अपील है कि वोटिंग को गुप्त रखा जाए, इसको लेकर हंगामा किया जा रहा है । सदन में प्रदर्शन के दौरान विधायकों से अलग कार्यकर्ता भी विधानसभा में मौजूद हैं । उधर, एनडीए की जीत के बाद गठबंधन के नेताओं ने जय श्री राम के नारे लगाए , हालांकि इस दौरान नीतीश कुमार भी सदन में ही मौजूद रहे । 

Todays Beets: