Wednesday, October 5, 2022

Breaking News

   MHA ने NIA के 2 नए विंग को दी मंजूरी, 142 जांच अधिकारी-कर्मचारी बढ़ाए     ||   पाकिस्तान को बाढ़ से निपटने के लिए 10 अरब डॉलर की जरूरत, मंत्री का बयान     ||   सुप्रीम कोर्ट ने 1992 बाबरी मस्जिद विध्वंस से जुड़े सभी मामलो को बंद किया     ||   मनीष के घर-लॉकर से कुछ नहीं मिला, ईमानदार साबित हुए: CM केजरीवाल     ||   दिल्ली: JP नड्डा को बताना चाहता हूं, बच्चा चुराने लगी है BJP- मनीष सिसोदिया     ||   टेस्ला के मालिक एलन मस्क को कोर्ट में घसीटने की तैयारी, ट्विटर संग होगी कानूनी जंग    ||   गोवा में कांग्रेस पर सियासी संकट! सोनिया ने खुद संभाला मोर्चा    ||   जयललिता की पार्टी में वर्चस्व की जंग हारे पनीरसेल्वम, हंगामे के बीच पलानीस्वामी बने अंतरिम महासचिव     ||   देशभर में मानसून एक्टिव हो गया है और ज्यादातर राज्यों में जोरदार बारिश हो रही है. भारी बारिश ने देश के बड़े हिस्से में तबाही मचाई है    ||   अगले साल अंतरिक्ष जाएंगे भारतीय , एक या दो भारतीयों को भेजने की योजना है     ||

मुरादाबाद - कावड़ यात्रा के रास्ते को लेकर दो समुदाय आमने सामने , पुलिस प्रशासन समेत आला अफसरों के उड़े होश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मुरादाबाद - कावड़ यात्रा के रास्ते को लेकर दो समुदाय आमने सामने , पुलिस प्रशासन समेत आला अफसरों के उड़े होश

मुरादाबाद । देश में जारी कावड़ यात्रा के दौरान सोमवार को एक सूचना ने यूपी की मुरादाबाद पुलिस प्रशासन के आला अधिकारियों के होश उड़ा दिए । सूचना मिली कि मुरादाबाद के सोनकपुर थाना क्षेत्र के इब्राहिमपुर मिर्जा गांव में कांवड़ यात्रा के रास्ते को लेकर दो समुदाय के लोगों के बीच गतिरोध पैदा हो गया है । दोनों समुदाय के लोग विवाद को लेकर आमने सामने खड़े हो गए हैं । सूचना मिलते ही पुलिस - प्रशासन के आला अधिकारी भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे । हालांकि किसी बड़ी घटना से पहले ही पुलिस प्रशासन ने गांव के बड़े बुजुर्गों की मदद लेकर गुस्साए लोगों को शांत कराते हुए इस स्थिति पर काबू पाया । हालांकि अभी भी स्थिति को देखते हुए कुछ पुलिसकर्मी गांव में ही मौजूद हैं ।

बता दें कि सोनकपुर थाना क्षेत्र के इब्राहिमपुर मिर्जा गांव के ही कुछ लोग कावड़ लेकर वापस आए हैं । इनके आने पर एक समुदायर के लोगों ने आरोप लगाए कि इन लोगों ने आने के लिए गलत रास्ते का इस्तेमाल किया , जिसके बाद दूसरे पक्ष ने रास्ते बंद कर दिए । इसके चलते दोनों पक्षों के लोगों में काफी देर तक कहासुनी जारी रही । 

हालांकि हंगामा बढ़ता देख किसी ने पुलिस को इस घटना की जानकारी दे दी । सूचना मिलते ही भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा। तनाव बढ़ता देख आला अधिकारियों को घटना की जानकारी दी गई । इस पर आला अधिकारी भी मौके पर पहुंचे ,  जिसके बाद उन्होंने गांव के कुछ गणमान्य लोगों के साथ बात करके और उनके माध्यम से दोनों पक्षों के लोगों को समझाते हुए इस मामले को शांत कराने की पहल की । 


बाद में इन लोगों ने दोनों पक्षों को शांत करवाया । हालांकि इस दौरान लोगों ने शर्त रखी कि आगे से कांवड़ यात्रा का रास्ता एसडीएम द्वारा तय किया जाएगा । इसका आश्वासन मिलने पर दोनों पक्ष शांत हुए । 

इस पूरे मामले को लेकर एसपी ग्रामीण विद्या सागर मिश्र का कहना है कि कावड़ियों द्वारा जल लाने के चलते दो समुदाय के लोगों द्वारा किसी बात पर गतिरोध पैदा हो रहा था , जिसे बातचीत के माध्यम से ही सुलझा लिया गया है ।  

Todays Beets: