Tuesday, October 26, 2021

Breaking News

   52वां इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया 20 से 28 नवंबर तक गोवा में होगा     ||   पीएम मोदी की अपील- मेड इन इंडिया सामान खरीदने पर जोर दें, इसके लिए सब प्रयास करें     ||   भारत में 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर बिल गेट्स ने दी पीएम मोदी को बधाई     ||   सेना की 39 महिला अफसरों की बड़ी जीत, मिलेगा स्थायी कमीशन; SC ने दिया आदेश     ||   बिहार में महागठबंधन टूटा, कांग्रेस का ऐलान 2024 के आम चुनाव में सभी 40 सीटों पर लड़ेगी पार्टी     ||   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||   तालिबान की अमेरिका को धमकी, 31 अगस्त के बाद भी रही सेना तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे    ||   कर्नाटक CM से स्थानीय BJP विधायक की मांग- कोरोना के चलते किसी भी हिंदू पर्व पर ना लगे बंदिशें    ||   तेजप्रताप की नाराजगी के सवाल पर बोले तेजस्वी- राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर ही देंगे जवाब    ||   अंडमान एंड निकोबार के पोर्ट ब्लेयर में महसूस किए गए 4.3 तीव्रता के भूकंप     ||

''अब्बाजान'' के बाद अब ''चचाजान'' से मचा यूपी में घमासान , टिकैत - ओवैसी के बीच सियासी ''तीर''

अंग्वाल न्यूज डेस्क

लखनऊ । उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर सियासी तरकश से तीर निकलने  शुरू हो गए हैं । पिछले दिनों सियासत में अब्बाजान'' के नाम से चले तीर ने यूपी की एक सियासी पार्टी के शूरवीरों'' को घायल किया तो अब किसान नेता राकेश टिकैत ने किसान आंदोलन की आड़ में अपने तरकश से भाजपा और  AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) पर ऐसा तीर चलाया कि दोनों ही बिलबिला उठे । टिकैत ने हापुड़ में हुई एक जनसभा में ओवैसी को भाजपा का ''चचाजान'' कह दिया। यूपी में अब्बाजान'' को लेकर गर्म हुई सियासत में टिकैत के चचाजान'' वाले इस जुमले ने मामला और भड़का दिया है । 

विदित हो कि किसान आंदोलन की अगुवाई करते नजर आ रहे किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने हापुड़ की एक रैली के दौरान AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी  को भाजपा का ''चचाजान'' बताया । राकेश टिकैत ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा के चचाजान ओवैसी अब उत्तर प्रदेश में आ गए हैं । 

टिकैत ने भाजपा पर कटाक्ष मारने के साथ ही आरोप लगाते हुए कहा कि भले ही ओवैसी लगातार भाजपा को गाली देते हो , लेकिन भाजपा कभी खिलाफ मामला तक दर्ज नहीं करती । इसका असल कारण यह है कि ये दोनों एक ही टीम के सदस्य हैं । 


टिकैत की इस बयानबाजी पर एआईएमआईएम (AIMIM) ने अपन नाराजगी जताई है । पार्टी की ओर से जारी बयान में कहा गया कि टिकैत ने भाजपा को जीताने का काम किया है । AIMIM प्रवक्ता आसिम वकार ने टिकैत के आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा कि आप कितने बड़े सेकुलर हैं ये मुझसे और मेरे लोगों से बेहतर कोई नहीं जानता । वर्ष 2017 और 2019 के चुनाव में आप भाजपा को जिता रहे थे और उनके लिए काम कर रहे थे । 

उन्होंने कहा कि मुसलमानों के कंधे में बैठकर अपनी राजनीतिक दूरी तय कर रहे हैं । जब मुजफ्फनगर में दंगे हुए थे तो आप कहां छिपे थे । वह बोले कि मैं यह यकीन से कह रहा हूं 2022 में तय हो जाएगा राकेश टिकैत भाजपा के बल्ले से खेल रहे हैं । 

बहरहाल , विधानसभा चुनावों से पहले अब यूपी की सियासत में जुबानी जंग का ऐलान हो गया है । कुछ समय पहले सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने एक कार्यक्रम में कहा था - अब्बा जान कहने वाले गरीबों की नौकरी पर डाका डालते थे ।  पूरा परिवार झोला लेकर वसूली के लिए निकल पड़ता था ।  अब्बा जान कहने वाले राशन हजम कर जाते थे ।  राशन नेपाल और बांग्लादेश पहुंच जाता था ।  आज जो गरीबों का राशन निगलेगा, वह जेल चला जाएगा ।  

Todays Beets: