Thursday, December 1, 2022

Breaking News

   सुकेश चंद्रशेखर विवाद के बीच तिहाड़ जेल से हटाए गए DG संदीप गोयल, संजय बेनीवाल को मिली कमान     ||   MHA ने NIA के 2 नए विंग को दी मंजूरी, 142 जांच अधिकारी-कर्मचारी बढ़ाए     ||   पाकिस्तान को बाढ़ से निपटने के लिए 10 अरब डॉलर की जरूरत, मंत्री का बयान     ||   सुप्रीम कोर्ट ने 1992 बाबरी मस्जिद विध्वंस से जुड़े सभी मामलो को बंद किया     ||   मनीष के घर-लॉकर से कुछ नहीं मिला, ईमानदार साबित हुए: CM केजरीवाल     ||   दिल्ली: JP नड्डा को बताना चाहता हूं, बच्चा चुराने लगी है BJP- मनीष सिसोदिया     ||   टेस्ला के मालिक एलन मस्क को कोर्ट में घसीटने की तैयारी, ट्विटर संग होगी कानूनी जंग    ||   गोवा में कांग्रेस पर सियासी संकट! सोनिया ने खुद संभाला मोर्चा    ||   जयललिता की पार्टी में वर्चस्व की जंग हारे पनीरसेल्वम, हंगामे के बीच पलानीस्वामी बने अंतरिम महासचिव     ||   देशभर में मानसून एक्टिव हो गया है और ज्यादातर राज्यों में जोरदार बारिश हो रही है. भारी बारिश ने देश के बड़े हिस्से में तबाही मचाई है    ||

राजस्थान में सियासी हलचल फिर तेज , कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी अजय माकन ने दिया पद से इस्तीफा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राजस्थान में सियासी हलचल फिर तेज , कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी अजय माकन ने दिया पद से इस्तीफा

जयपुर । राजस्थान कांग्रेस में कुछ भी सही नहीं चल रहा है । पार्टी में लगातार जारी घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है , लेकिन इस बीच इस घमासान को सांधने वालों में भी गतिरोध की खबर सामने आई है कि राजस्थान में कांग्रेस नेता अजय माकन ने राजस्थान के प्रभारी पद से इस्तीफा दे दिया है । उन्होंने अपने पद से इस्तीफा ऐसे समय में दिया है जब राज्य में सीएम अशोक  गहलोत और सचिन पायलट खेमे के बीच शीतयुद्ध जारी है । गहलोत गुट ने माकन पर पायलट का पक्ष लेने के आरोप लगाए थे । आलम यह है कि इस समय पार्टी इस गतिरोध को खत्म करने के लिए हर संभव कोशिश तो कर चुकी है , लेकिन कोई ठोस नतीजा नहीं निकला है । 

विदित हो कि अशोक गहलोत गुट के विधायकों ने अजय माकन पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। मंत्री शांति धारीवाल ने साफ तौर पर कहा था कि राजस्थान में जो भी कुछ हुआ उसमें अजय माकन की बड़ी भूमिका थी। माकन सरकार के खिलाफ बगावत कर चुके नेता को सत्ता देने के लिए पक्षपात कर रहे थे। मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा था कि माकन हमारे परिवार के मुखिया हैं। हमारी आवाज को सुनना, समझना और उसे आलाकमान तक पहुंचाना उनकी जिम्मेदारी थी। 


असल में गत 25 सितंबर को कांग्रेस पर्यवेक्षकों ने नए मुख्यमंत्री के नाम पर चर्चा करने के लिए विधायक दल की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में शामिल होने की जगह विधायक मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास के आवास पर जुट गए थे। जहां गहलोत गुट के मंत्री और विधायकों ने सचिन पायलट के सीएम बनाए जाने का विरोध किया था। बाद में विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी के आवास पर पहुंचकर इस्तीफा दे दिया था।   

Todays Beets: