Sunday, January 29, 2023

Breaking News

   दिल्लीः फ्लाइट में स्पाइसजेट की क्रू के साथ अभद्रता के मामले में एक्शन, आरोपी गिरफ्तार     ||   मोरबी ब्रिज हादसा: ओरेवा ग्रुप के मालिक जयसुख पटेल के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी     ||   भारत जोड़ो यात्राः राहुल गांधी बोले- हम चाहते हैं कि बहाल हो जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा     ||   MP में नहीं माने बजरंग दल और हिंदू जागरण मंच, 'पठान' की रिलीज के विरोध का किया ऐलान     ||   समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्या पर लखनऊ में FIR     ||   बजरंग पुनिया बोले - Oversight Committee बनाने से पहले हम से कोई परामर्श नहीं किया गया     ||   यमुना एक्सप्रेस-वे पर कोहरे की वजह से 15 दिसंबर से स्पीड लिमिट कम कर दी जाएगी     ||   भारत की यात्रा करने वाले ब्रिटेन के नागरिकों के लिए ई-वीजा सुविधा फिर से शुरू     ||   दिल्ली में अफसरों के ट्रांसफर पोस्टिंग पर अधिकार को लेकर सुप्रीम कोर्ट में 10 जनवरी से सुनवाई     ||   महाराष्ट्र के अपमान के खिलाफ महाविकास अघाड़ी 17 दिसंबर को निकालेगा मार्च     ||

राजस्थान में सियासी हलचल फिर तेज , कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी अजय माकन ने दिया पद से इस्तीफा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राजस्थान में सियासी हलचल फिर तेज , कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी अजय माकन ने दिया पद से इस्तीफा

जयपुर । राजस्थान कांग्रेस में कुछ भी सही नहीं चल रहा है । पार्टी में लगातार जारी घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है , लेकिन इस बीच इस घमासान को सांधने वालों में भी गतिरोध की खबर सामने आई है कि राजस्थान में कांग्रेस नेता अजय माकन ने राजस्थान के प्रभारी पद से इस्तीफा दे दिया है । उन्होंने अपने पद से इस्तीफा ऐसे समय में दिया है जब राज्य में सीएम अशोक  गहलोत और सचिन पायलट खेमे के बीच शीतयुद्ध जारी है । गहलोत गुट ने माकन पर पायलट का पक्ष लेने के आरोप लगाए थे । आलम यह है कि इस समय पार्टी इस गतिरोध को खत्म करने के लिए हर संभव कोशिश तो कर चुकी है , लेकिन कोई ठोस नतीजा नहीं निकला है । 

विदित हो कि अशोक गहलोत गुट के विधायकों ने अजय माकन पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। मंत्री शांति धारीवाल ने साफ तौर पर कहा था कि राजस्थान में जो भी कुछ हुआ उसमें अजय माकन की बड़ी भूमिका थी। माकन सरकार के खिलाफ बगावत कर चुके नेता को सत्ता देने के लिए पक्षपात कर रहे थे। मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा था कि माकन हमारे परिवार के मुखिया हैं। हमारी आवाज को सुनना, समझना और उसे आलाकमान तक पहुंचाना उनकी जिम्मेदारी थी। 


असल में गत 25 सितंबर को कांग्रेस पर्यवेक्षकों ने नए मुख्यमंत्री के नाम पर चर्चा करने के लिए विधायक दल की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में शामिल होने की जगह विधायक मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास के आवास पर जुट गए थे। जहां गहलोत गुट के मंत्री और विधायकों ने सचिन पायलट के सीएम बनाए जाने का विरोध किया था। बाद में विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी के आवास पर पहुंचकर इस्तीफा दे दिया था।   

Todays Beets: