Sunday, October 20, 2019

Breaking News

   दिल्ली में भी भोपाल जैसा हनी ट्रैप , कई रईसजादों को विदेशी लड़कियों की मदद से फंसाया    ||   घाटी में घनघटाने लगीं मोबाइल फोन की घंटियां, इंटरनेट पर अभी भी प्रतिबंध    ||   इकबाल मिर्ची की इमारत में प्रफुल्ल पटेल का भी फ्लैट , ईडी ने भेजा समन    ||   रणवीर सिंह ने ठुकराया संजय लीला भंसाली की फिल्म का ऑफर , आलिया भट्ट हैं फिल्म की हिरोइन    ||   वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के पति ने भी माना- अर्थव्यवस्था की हालत खराब     ||   दिल्ली में डेंगू ने तोड़ा रिकॉर्ड, इस हफ्ते में 111 नए मामले आए सामने     ||   अगस्ता वेस्टलैंड मनी लॉन्ड्रिंग केस: 25 अक्टूबर तक बढ़ी रतुल पुरी की न्यायिक हिरासत     ||   तमिलनाडु: मसाले की फैक्ट्री में लगी आग, मौके पर दमकल की गाड़ियां मौजूद     ||   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||

अमित शाह LIVE - PAK - राहुल की सोच एक जैसी क्यों ? दोनों ने बालाकोट के सबूत मांगे, अनुच्छेद - 370 का विरोध 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अमित शाह LIVE - PAK - राहुल की सोच एक जैसी क्यों ? दोनों ने बालाकोट के सबूत मांगे, अनुच्छेद - 370 का विरोध 

सोलापुर । महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के मद्देनजर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह गुरुवार को राज्य के सोलापुर में आयोजित एक चुनावी जनसभा में संबोधित करने पहुंचे । इस दौरान उन्होंने भारतीय जनता पार्टी को एक परिवार वाली पार्टी की विचारधारा से अलग छोटे बड़े सभी कार्यकर्ताओं की पार्टी करार दिया । उन्होंने कहा कि भाजपा एकमात्र ऐसी पार्टी है जहां राष्ट्रीय अध्यक्ष का बेटा अध्यक्ष नहीं बल्कि छोटे से छोटा कार्यकर्ता भी एक दिन पार्टी अध्यक्ष पद पर काबिज होता है । भाजपा समाज उत्थान में लगे लोगों को राजनीतिक मंच देकर उनके हाथ और मजबूत करती है । जबकि दूसरी पार्टियां आज भी वंशवाद - परिवारवाद से बाहर नहीं निकल पा रही है । इस दौरान उन्होंने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि ये महाश्य और पाकिस्तान की सोच एक जैसी है । दोनों ही भारत की हर कार्रवाई पर सबूत मांगते हैं। 

सोलापुर के अक्कलकोट में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने का मुद्दा उठाया । उन्होंने कहा कि यह अनुच्छेद देश से कश्मीर को जुड़ने नहीं दे रहा था । इसके चलते हजारों लोग वहां मारे गए लेकिन कोई भी प्रधानमंत्री इस अनुच्छेद को हटाने की हिम्मत नहीं दिखा पाया । भाजपा की मोदी सरकार ने यह फैसला लिया । 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के राजकुमार' जो अनुच्छेद 370 हटाए जाने पर घाटी में खून की नदियां बहने संबंधी बातें करने वालों के समर्थन में खड़े हो गए , उन्हें बता दें कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद से वहां स्थिति पूरी तरह शांत और सामान्य हो गई है । एक गोली तक नहीं चली । उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और पाकिस्तान की सोच एक जैसी है । दोनों ही भारत सरकार की हर कार्रवाई पर सबूत मांगते हैं । बालाकोट में सर्जिकल स्ट्राइक को ही ले लो , दोनों ने ही सबूत मांगे । कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने की बात करें , पाकिस्तान और राहुल गांधी दोनों ने ही विरोध किया । मेरी समझ में नहीं आता आखिर दोनों की सोच एक क्यों हैं।


वह बोले - वोटबैंक की राजनीति करना कांग्रेस की पुरानी आदत है , जबकि भाजपा वोटबैंक की राजनीति नहीं करती बल्कि देशहित की राजनीति करती है । दोनों पार्टियों के बीच यह एक बड़ा अंतर है । भाजपा सरकार हर जिले - जाति का विकास करने वाली सरकार है । इसी क्रम में उन्होंने शरद पवार की एनसीपी पर परिवार वाद का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, इस बार चुनावों में लड़ाई एक बाहुबली और एक कार्यकर्ता ही है । इसलिए इस बार चुनावों में आम कार्यकर्ता के रूप में आए उम्मीदवार को जिताएं । 

      

Todays Beets: