Tuesday, April 16, 2024

Breaking News

   एमसीडी में एल्डरमैन की नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका पर SC 8 मई को करेगा सुनवाई     ||   यूक्रेन से युद्ध में दिसंबर से अब तक रूस के 20000 से ज्यादा लड़ाके मारे गए: अमेरिका     ||   IPL: मैच के बाद भिड़ गए थे गौतम गंभीर और विराट कोहली, लगा 100% मैच फी का जुर्माना     ||   पंजाब में 15 जुलाई तक सरकारी कार्यालयों में सुबह 7:30 बजे से दोपहर दो बजे तक होगा काम     ||   गैंगस्टर टिल्लू की लोहे की रोड और सूए से हत्या, गोगी गैंग के 4 बदमाशों ने किया हमला     ||   सुप्रीम कोर्ट ने 'द केरल स्टोरी' पर बैन लगाने की मांग वाली याचिका पर तुरंत सुनवाई से किया इनकार     ||   नीतीश कटारा हत्याकांड: SC में नियमित पैरोल की मांग करने वाली विशाल यादव की याचिका खारिज     ||   'मैंने सिर्फ इस्तीफा दिया है, बाकी काम करता रहूंगा' नेताओं के मनाने पर बोले शरद पवार     ||   सोनिया गांधी दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में भर्ती    ||   कर्नाटक हिजाब केस में SC ने तुरंत सुनवाई से इंकार किया    ||

Delhi MCD Mayor Election LIVE - फिर टल गया मेयर का चुनाव , सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

अंग्वाल न्यूज डेस्क
Delhi MCD Mayor Election LIVE - फिर टल गया मेयर का चुनाव , सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

नई दिल्ली । दिल्ली नगर निगम के सदन में मंगलवार को जमकर हंगामा हुआ । भाजपा और आम आदमी पार्टी के पार्षदों ने एक दूसरे के खिलाफ जहां जमकर नारेबाजी की , जबकि इस दौरान पार्षदों का शपथ ग्रहण जारी रहा । भाजपा पार्षदों के लगातार हंगामे के चलते सदन को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया । इसके साथ ही एक बार फिर से मेयर का चयन टल गया है । इससे पहले भी 6 जनवरी को मेयर का चुनाव नहीं हो सकता था । 

सदन के बाहर नारेबाजी जारी

इस समय दिल्ली निगम सदन के बाहर भाजपा और आप पार्षदों के बीच जमकर नारेबाजी हो रही है । आप का आरोप है कि बिना किसी वजह के सदन स्थगित कर दिया गया ।  आप ने आरोप लगाया कि बीजेपी मेयर का चुनाव लगातार टालने की कोशिश कर रही है । मेयर चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी के पार्षद मुकेश गोयल ने कहा था कि जो लोग वोट डालने के पात्र नहीं है, उनको सदन के बाहर बैठाया जाए । लेकिन सदन की कार्रवाई बीच बीच में हंगामे के चलते स्थगित हुआ और अंत में अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो गया है ।

डेढ़ महीने से जारी है घमासान

विदित हो कि देश की राजधानी दिल्ली में पिछले डेढ़ महीने से जारी घमासान का आज भी अंत नहीं हो सका है । दिल्ली नगर निगम (MCD) के सदन की बैठक मंगलवार सुबह 11 बजे से शुरू हुई , पार्षदों के शपथ ग्रहण के बावजूद मेयर का चुनाव संपन्न नहीं हो सका । सुबह पहले निर्वाचित पार्षदों ने शपथ ली , लेकिन इसके बाद  जब मेयर के चुनाव होने का समय आया तो सदन में जमकर हंगामा खड़ा हो गया । 

5 साल का होता है MCD के सदन का कार्यकाल


बता दें कि एमसीडी के सदन का कार्यकाल पांच साल का होता है, लेकिन मेयर का कार्यकाल सिर्फ एक साल के लिए होता है ।  हर साल नये मेयर का चुनाव होता है ।  एमसीडी एक्ट के मुताबिक पहले साल महिला पार्षद को मेयर चुने जाने का प्रावधान है । दूसरे साल मेयर का पद सामान्य होता है । यानी कोई भी पार्षद मेयर चुना जा सकता है । तीसरे साल मेयर पद दलित समुदाय के लिए रिजर्व होता है । ऐसे में दलित समाज से आने वाला कोई भी पार्षद मेयर चुना जा सकता है, लेकिन चौथे और पांचवें साल मेयर का पद अनारक्षित होता है । जहां तक स्टैंडिंग कमेटी की बात है तो वो एमसीडी से सबसे ज्यादा पावरफुल कमेटी है । स्टैंडिंग कमेटी के अध्यक्ष पर आरक्षण की कोई व्यवस्था नहीं है ।  

सदन में गूंजा बागेश्वर धाम का नाम

विदित हो कि दिल्ली नगर निगम के सदन में सदन पार्षदों के शपथ ग्रहण समारोह के दौरान आप-भाजपा नेताओं के हंगामे के बीच अचानक बागेश्वर धाम का नारा गूंज उठा । वार्ड नंबर 202 से बीजेपी पार्षद राम किशोर शर्मा ने शपथ के बाद बागेश्वर धाम का जयकारा लगाया । वहीं AAP पार्षद धीरेन्द्र  कुमार बंटी ने शपथ के दौरान अरविंद केजरीवाल का नाम लिया जिसके बाद सदन में भाजपा के पार्षदों ने आपत्ति दर्ज करते हुये हंगामा किया । इसके बाद बीजेपी मोदी-मोदी कर रही है और AAP केजरीवाल जिंदाबाद के नारे लगा रहे है । 

किसी का भी मेयर बने बस जनता के लिए काम करे

पूर्वी दिल्ली से बीजेपी सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने ताजा ट्वीट में कहा है कि मैं चाहता हूं कि शांति पूर्ण तरीके से एमसीडी चुनाव संपन्न चुनाव हों । एमसीडी में किसी का भी मेयर क्यों न बने, वो दिल्ली की जनता के लिए काम करे । 

बॉबी किन्नर ने भी शपथ

सुल्तानपुरी से आम आदमी पार्टी की पार्षद बॉबी किन्नर ने भी सदन की सदस्यता की शपथ ली । खास बात यह है कि बॉबी किन्नर दिल्ली नगर निगम की पहली किन्नर पार्षद हैं । 

Todays Beets: