Friday, May 14, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

केजरीवाल सरकार ने प्रवासी मजदूरों को दिल्ली में रोकने के लिए बनाई रणनीति , इनके खातों में जमा होंगे रुपये

अंग्वाल न्यूज डेस्क
केजरीवाल सरकार ने प्रवासी मजदूरों को दिल्ली में रोकने के लिए बनाई रणनीति , इनके खातों में जमा होंगे रुपये

नई दिल्ली । दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राष्ट्रीय राजधानी से पलायन कर रहे प्रवासी मजदूरों को यहां बांधे रखने के लिए नई रणनीति बनाई है । मिली जानकारी के अनुसार , दिल्ली सरकार ने पंजीकृत निर्माण श्रमिकों में से प्रत्येक को 5,000 रुपये की वित्तीय सहायता देने का प्रस्ताव रखा और प्रवासी श्रमिकों की सहायता के लिए एक समिति का गठन किया है। इस सिलसिले में दिल्ली सरकार  ने मंगलवार को हाई कोर्ट में मजदूरों को 5 हजार रुपये की मदद देने का हलफनामा दायर किया।

बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण पर काबू पाने के लिए दिल्ली में लगाए गए लॉकडाउन के बीच एकबार फिर प्रवासी मजदूरों  का पलायन एक बार फिर शुरू हो गया है।

कोरोना के लगातार बेकाबू होते हालात पर काबू पाने के लिए केंद्र के साथ-साथ तमाम राज्यों की सरकार अपने-अपने तरह से सभी प्रभावी कदम उठा रही है लेकिन इसपर फिलहाल कोई रोक लगती नहीं दिख रही । इस बीच दिल्ली में प्रवासी मजदूरों के पलायन से रोकने के लिए दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने बड़ा ऐलान किया है।


असल में , केजरीवाल के सोमवार को घोषित छह दिवसीय लॉकडाउन की घोषण के बाद से ही उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड और अन्य राज्यों से बड़ी संख्या में प्रवासी कामगारों ने बस टर्मिनलों और रेलवे स्टेशनों पर भीड़ देखने को मिलने लगी। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने एक आदेश में कहा है कि दिल्ली सरकार की दृष्टि दैनिक राजधानी और राष्ट्रीय राजधानी में रहने वाले प्रवासी श्रमिकों को आश्रय, भोजन, पानी, स्वच्छता, चिकित्सा सुविधा प्रदान करके उनका कल्याण सुनिश्चित करेगी।

बता दें कि दिल्ली में 6 दिन का लॉकडाउन  लगाने का ऐलान होने के साथ ही दिल्ली से प्रवासी मजदूरों का पलायन शुरू हो गया था । दिल्ली के आनंद विहार बस अड्डे पर भारी संख्या में मजदूर अपने घरों की ओर रुख करते देखे गए । इस सबके चलते आने वाले दिनों में उद्योगों में असर पड़ने की आशंका है , जिसके मद्देनजर अब केजरीवाल सरकार ने ऐसे प्रवासी मजदूरों को दिल्ली में ही रहने की अपील करते हुए अब वित्तीय मदद का ऐलान किया है ।  

Todays Beets: