Sunday, January 17, 2021

Breaking News

   सरकार की सत्याग्रही किसानों को इधर-उधर की बातों में उलझाने की कोशिश बेकार है-राहुल गांधी     ||   थाइलैंड में साइना नेहवाल कोरोना पॉजिटिव, बैडमिंटन चैम्पियनशिप में हिस्सा लेने गई हैं विदेश     ||   एयर एशिया के विमान से पुणे से दिल्ली पहुंची कोरोना वैक्सीन की पहली खेप     ||   फिटनेस समस्या की वजह से भारत-ऑस्ट्रेलिया चौथे टेस्ट से गेंदबाज जसप्रीत बुमराह बाहर     ||   दिल्ली: हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की पार्टी विधायकों के साथ बैठक, किसान आंदोलन पर चर्चा     ||   हम अपने पसंद के समय, स्थान और लक्ष्य पर प्रतिक्रिया देने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं- आर्मी चीफ     ||   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||

किराएदार ने रची साजिश , मकान मालिक की प्रॉपर्टी पर 6.70 करोड़ का लोन लेकर हुआ था फरार , पढ़ें घटनाक्रम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
किराएदार ने रची साजिश , मकान मालिक की प्रॉपर्टी पर 6.70 करोड़ का लोन लेकर हुआ था फरार , पढ़ें घटनाक्रम

नई दिल्ली । दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे शातिर शख्स को गिरफ्तार किया है , जिसने अपने मकान मालिक के खिलाफ ऐसी साजिश रची कि अगर वह पकड़ा न जाता तो प्रॉपर्टी मालिक के लिए बड़ी परेशानी हो जाती । असल में दिल्ली पुलिस ने फर्जी दस्तावेजों और पहचान छुपाकर करोड़ों रुपये का होम लोन लेने वाले सुनील आनंद को गिरफ्तार किया है । असल में इसने नकली दस्तावेज बनवाकर अपने मकान मालिक की प्रॉपर्टी पर कुल 6.70 करोड़ रुपये का होम लोन ले लिया । रकम खाते में आने के बाद यह फरार हो गया था। पिछले कुछ सालों से उसकी तलाश जारी थी और आखिरकार इसे पुलिस ने दबोच लिया है। आरोपी सुनील आनंद को पुलिस ने गिरफ्तार करने के साथ ही बताया कि इस शख्स ने राहुल शर्मा बनकर अपने मकान मालिक के नाम से जाली कागजात बनाए थे और करोड़ों के होम लोन लिए थे । 

असल में पिछले दिनों रीता बब्बर नाम ने पुलिस में मामला दर्ज करवाया कि उनका किराएदार , उनकी प्रॉपर्टी के फर्जी दस्तावेज बनवाकर उस पर होम लोन लेकर फरार हो गया है । महिला ने अपनी शिकायत में कहा कि 2014 में उन्होंने पूर्वी दिल्ली के सूरजमल विहार स्थित अपनी प्रॉपर्टी को सचिन शर्मा, उसके पिता मांगे राम शर्मा और उसके रिश्तेदार राहुल शर्मा को किराए पर दी थी । इस पर आर्थिक अपराध शाखा ने कार्यवाही शुरू की ।

ज्वाइंट कमिश्नर ओपी शर्मा ने बताया कि 2016 में इनका रेंट एग्रीमेंट समाप्त हो गया तो राहुल और सचिन ने रीता बब्बर के साथ एक लीज पर हस्ताक्षर किया और उसी प्रॉपर्टी में किराएदार के रूप में रहने लगे । जुलाई 2016 में इस मामले का खुलासा तब हुआ जब रीता के पति को एक फाइनेंस कंपनी से फोन आया कि राहुल शर्मा ने उनकी प्रॉपर्टी के सिक्योरिटी के आधार पर 2.25 करोड़ रुपये का लोन लिया था और अब वो लापता है । 


इस दौरान जांच में सामने आया कि राहुल शर्मा ने इस लोन के साथ ही कुछ अन्य जगहों से भी उनकी प्रापर्टी के आधार पर होम लोन लिए हुए थे । पुलिस जांच में सामने आया कि इन फर्जी दस्तावेजों को बनवाने के लिए आरोपी ने रीता बब्बर के नाम पर फर्जी डेथ सर्टिफिकेट भी बनाया था । बात में सामने आया कि सुनील आनंद ने ही खुद को राहुल शर्मा के रूप में पेश किया किया और लोन लिया था। 

इसके बाद से सुनील आनंद को खोजा जा रहा था । गत दिनों एक मुखबिर ने सुनील आनंद के बारे में पुलिस को जानकारी दी , जिसके तहत पुलिस ने सुनील को गिरफ्तार कर लिया है । अब इस मामले में पड़ताल की जा रही है कि उसके पास कितना पैसा बचा है। इतना ही नहीं कहीं उसने इस तरह से कुछ और लोगों को तो अपनी धोखाधड़ी का शिकार तो नहीं बनाया है ।

Todays Beets: