Monday, February 17, 2020

Breaking News

   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||   रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में चूक, मोटरसाइकिल काफिले के सामने आया शख्स     ||

नीतीश कुमार की पवन वर्मा को दो टूक , अगर किसी दूसरी पार्टी में जाना चाहते हैं जाएं , मेरी शुभकामनाएं

अंग्वाल न्यूज डेस्क
नीतीश कुमार की पवन वर्मा को दो टूक , अगर किसी दूसरी पार्टी में जाना चाहते हैं जाएं , मेरी शुभकामनाएं

पटना । बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को अपनी पार्टी के नेता पवन वर्मा को दो टूक कहा कि अगर वह किसी दूसरी पार्टी में जाना चाहते हैं तो जा सकते हैं, जिस भी पार्टी को वह पसंद करते हैं । इस दौरान उन्होंने कहा कि पार्टी के अगर किसी नेता के पास कोई मुद्दा या कोई बात है तो वह पार्टी या पार्टी बैठकों में इस पर चर्चा कर सकता है, लेकिन इस तरह के सार्वजनिक बयान आश्चर्यजनक हैं । उन्होंने पवन वर्मा का नाम न लेते हुए कहा कि इस सब के बीच अगर वह किसी दूसरे दल में जाना चाहते हैं जो जा सकते हैं उन्हें मेरी शुभकामनाएं । 

बता दें कि गत दिनों जनता दल यूनाइटेड नेता पवन वर्मा ने उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के उस बयान की खुलेआम आलोचना की थी, जिसमें मई से सितंबर के दौरान बिहार में NPR लागू करने का ऐलान किया गया था । पवन शर्मा भाजपा के साथ पार्टी के गठबंधन को लेकर भी लगातार आवाज उठाते रहे हैं । पवन वर्मा के साथ ही जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर भी कई बार पार्टी लाइन के खिलाफ जा चुके हैं । प्रशांत ने सबसे पहले NRC को लेकर मुद्दा उठाया था । 

इन सब बयानों के बाद गुरुवार को नीतीश कुमार ने अपने बयान में पवन वर्मा को किसी दूसरे दल के पसंद आने पर वहां जाने की नसीहत दे डाली । साथ ही उन्होंने कहा कि अगर किसी नेता को कोई बात रखनी है तो पार्टी की बैठकों में रखें , यूं सार्वजनिक मंच पर ऐसे बयान देना ठीक नहीं 


नीतीश कुमार के इस बयान पर पवन वर्मा ने कहा कि वह पार्टी अध्यक्ष के इस बयान का स्वागत करते हैं कि पार्टी में बहस की जगह है । फिलहाल मैं अपने पत्र के जवाब का इंतजार कर रहा हूं और जवाब आने के बाद ही आगे की राह तय करूंगा ।

इस सब के बीच पटना में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा था कि ये दोनों नेता पार्टी लाइन के खिलाफ जाकर लगातार बयानबाजी कर रहे हैं । उनकी बयानबाजी से पार्टी पर कोई फर्क नहीं पड़ता है । उन्होंने दोनों नेताओं पर एक्शन लेने के लिए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बातचीत करने की बात कही थी ।  

Todays Beets: