Friday, April 23, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

यूपी में 30 अप्रैल तक करवाने होंगे पंचायती चुनाव , आज हो सकता है आरक्षण नीति का ऐलान 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यूपी में 30 अप्रैल तक करवाने होंगे पंचायती चुनाव , आज हो सकता है आरक्षण नीति का ऐलान 

लखनऊ । यूपी में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (Panchayat Elections) होने वाले हैं , लेकिन इस बार नए परिसीमन के बाद नगरपालिकाओं, नगर पंचायतों और जिला पंचायतों की स्थिति बदल गई है । यही वजह है कि इन चुनावों में अपनी दावेदार का बेसब्री से इंतजार कर रहे लोगों को अब आरक्षण नीति का भी इंतजार कर रहे हैं । इस बीच सूचना है कि पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र सिंह, विभाग के अपर मुख्य सचिव मनोज सिंह और निदेशक किंजल सिंह शाम 3 बजे प्रेस कांफ्रेंस करेंगे । इस दौरान वह आरक्षण नीति का ऐलान कर सकते हैं । 

विदित हो कि उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव होने वाले हैं । इन चुनावों में इस बार रोटेशन प्रणाली के आधार पर आरक्षण लागू किया जा सकता है । अगर आज इन चुनावों में आरक्षण नीति की घोषणा हो जाती है तो राज्य निर्वाचन आयोग चुनाव की तारीखों का भी ऐलान जल्द कर देगा । आरक्षण नीति आने के बाद आयोग को चुनाव करवाने में 45 दिन का समय लगेगा । इससे पहले 4 फरवरी को हाई कोर्ट ने राज्य सरकार और चुनाव आयोग के प्रस्ताव को मंजूरी देते हुए 30 अप्रैल तक ग्राम पंचायतों का प्रत्यक्ष चुनाव कराने को मंजूरी दे दी थी । 

इस बीच पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र सिंह, विभाग के अपर मुख्य सचिव मनोज सिंह और निदेशक किंजल सिंह शाम 3 बजे प्रेस वार्ता बुलाई है , जिसमें संभावना जताई जा रही है कि इस दौरान पंचायत चुनाव के लिए आरक्षण की स्थिति स्पष्ट हो जाएगी । 


बता दें कि इलाहबाद हाई कोर्ट के निर्देश के मुताबिक प्रदेश में 30 अप्रैल तक पंचायत चुनाव पूरे करने हैं । उत्तर प्रदेश ग्राम पंचायत चुनाव में इस बार 2016 के मुकाबले 880 ग्राम पंचायतें कम हो जाएंगी । ऐसा नए परिसीमन के कारण होगा । 

 

Todays Beets: