Saturday, August 8, 2020

Breaking News

   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||   कानपुर गोलीकांड की जांच के लिए एसआईटी गठित, 31 जुलाई तक सौंपनी होगी रिपोर्ट     ||   धमकी देकर फरीदाबाद में रिश्तेदार के घर रुका था विकास, अमर दुबे से हुआ था झगड़ा     ||   राजस्थान: विधायकों को राज्य से बाहर जाने से रोकने के लिए सीमा पर बढ़ाई गई चौकसी     ||   हार्दिक पटेल गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त     ||   गुवाहाटी केंद्रीय जेल में बंद आरटीआई कार्यकर्ता अखिल गोगोई समेत 33 कैदी कोरोना पॉजिटिव     ||   अमिताभ बच्चन कोरोना पॉजिटिव, नानावती अस्पताल में कराए गए भर्ती     ||   राजस्थान सरकार का प्राइवेट स्कूलों को आदेश- स्कूल खुलने तक फीस न लें     ||   गुजरात सरकार में मंत्री रमन पाटकर कोरोना वायरस से संक्रमित     ||   विकास दुबे पर पुलिस की नाकामी से भड़के योगी, खुद रख रहे ऑपरेशन पर नजर!     ||

विकास दुबे का घर गिराया गया , मां बोली - पुलिस उसे पकड़े तो गोली मार दे , बहुत गलत काम किया है उसने

अंग्वाल न्यूज डेस्क
विकास दुबे का घर गिराया गया , मां बोली - पुलिस उसे पकड़े तो गोली मार दे , बहुत गलत काम किया है उसने

कानपुर । हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर यूपी पुलिस ने अब शिकंजा कसना शुरू कर दिया है । हत्या के मामले में गिरफ्तार करने गई पुलिस टीम पर विकास दुबे और उसके बदमाशों द्वारा अंधाधुंध फायरिंग करने और एक डिप्टी एसपी समेत 8 पुलिसकर्मियों को शहीद करने के बाद कानपुर प्रशासन ने उसके बिठुर स्थित घर को गिरा दिया है । वहीं इस पूरे घटनाक्रम पर विकास दुबे की मां सरला देवी ने अपने बेटे को सरेंडर करने की सलाह दी है । उन्होंने कहा कि मैं तो कहती हूं कि अगर पुलिस उसे पकड़ लेती है तो उसे मार भी दे क्योंकि उसने बहुत गलत काम किया है। 

बता दें कि हिस्ट्रीशीटर को गिरफ्तार करने के लिए इस समय यूपी पुलिस और एसटीएफ की करीब 20 टीमें यूपी के कई जिलों में लगातार दबिश दे रही हैं । इतना रही नहीं कानपुर मुठभेड़ में 8 पुलिसकर्मियों की मौत का जिम्मेदार कुख्यात अपराधी विकास दुबे की जानकारी देने पर पुलिस ने 50 हजार रुपये का इनाम रखा है ।


वहीं हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की मां सरला देवी ने अपने बेटे को सलाह दी कि वो सरेंडर कर दे वरना पुलिस उसे मार देगी । उन्होंने कहा, विकास के खिलाफ दर्जनों संगीन मामले चल रहे हैं । हत्या और हत्या की कोशिश के कई केस भी इसमें शामिल हैं ।जानकारी के मुताबिक पुलिस की जांच में आया है कि चौबेपुर थाने के ही एक दारोगा ने विकास को पुलिस के आने की जानकारी पहले दी थी । शक के घेरे में एक दारोगा, एक सिपाही और एक होमगार्ड है । तीनों की कॉल डिटेल के आधार पर उनसे पूछताछ की जा रही है।

विदित हो कि कानपुर में शुक्रवार सुबह हिस्ट्रीशीटर विकास को पकड़ने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने गोलियां बरसा दीं जिसमें 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए, जबकि कई घायल हुए हैं । पुलिस की टीम सुबह हत्या के प्रयास के केस में शातिर विकास दुबे को गिरफ्तार करने गई थी ।

Todays Beets: