Wednesday, June 26, 2019

Breaking News

   आईबी के निदेशक होंगे 1984 बैच के आईपीएस अरविंद कुमार, दो साल का होगा कार्यकाल    ||   नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कार्यकाल सरकार ने दो साल बढ़ाया    ||   BJP में शामिल हुए INLD के राज्यसभा सांसद राम कुमार कश्यप और केरल के पूर्व CPM सांसद अब्दुल्ला कुट्टी    ||   टीम इंडिया की जर्सी पर विवाद के बीच आईसीसी ने दी सफाई, इंग्लैंड की जर्सी भी नीली इसलिए बदला रंग    ||   PIL की सुनवाई के लिए SC ने जारी किया नया रोस्टर, CJI समेत पांच वरिष्ठ जज करेंगे सुनवाई    ||   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||

राज्य में डेंगू के मरीजों की संख्या में हो रही बढ़ोतरी, स्वास्थ्य विभाग के माथे पर पड़ा बल 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राज्य में डेंगू के मरीजों की संख्या में हो रही बढ़ोतरी, स्वास्थ्य विभाग के माथे पर पड़ा बल 

देहरादून। उत्तराखंड के अलग-अलग जिलों में डेंगू के मरीजों की बढ़ती संख्या ने स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा दिया है। खबरों के अनुसार राज्य में 25 नए डेंगू के मरीजों की पुष्टि हुई है। इसमें सबसे ज्यादा मरीजों की संख्या हरिद्वार से आई है। पूरे राज्य में डेंगू के मरीजों की संख्या 300 से पार हो चुकी है। डेंगू से निपटने के स्वास्थ्य विभाग के तमाम दावे खोखले साबित हो रहे हैं। देहरादून में 4, टिहरी में 7 और नैनीताल में 2 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से इसे कोई बड़ा मामला नहीं बताया जा रहा है। 

गौरतलब है कि मानसून के अंत के साथ जिस तरह से राज्य में डेंगू के मरीजों की संख्या बढ़ रही है उसने स्वास्थ्य विभाग के माथे पर बल डाल दिए हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से कहा जा रहा है कि जिन इलाकों से मरीजों की संख्या ज्यादा आ रही है वहां लार्वा को मारने वाली दवा का छिड़काव करने के साथ फाॅगिंग कराई जा रही है। इसके साथ ही लोगों को भी अपने आसपास पानी जमा नहीं होने देने के लिए जागरूक किया जा रहा है। 

ये भी पढ़ें - अतिथि शिक्षकों की जल्द ही आने वाली है बहार, मंत्रिमंडल ने हजारों शिक्षकों की नियुक्ति को दी मंजूरी


यहां बता दें कि पिछले साल भी राज्य में डेंगू के मरीजों की संख्या काफी थी जिसमें से सैंकड़ों लोगों की मौत हो गई थी। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि तापमान के कम होने के बाद ही एडीज मच्छरों का प्रकोप कम हो पाएगा। स्वास्थ्य विभाग की ओर से सभी अस्पतालों में डेंगू के मरीजों के लिए आइसोलेशन वार्ड बनाने के निर्देश दिए हैं। बड़ी बात यह है कि विभाग की ओर से पहले ही एडवाइजरी जारी कर सभी स्कूलों में बच्चों को पूरी बाजू की शर्ट और फुलपैंट पहनने की हिदायत दी है।  

Todays Beets: