Thursday, April 22, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

बोर्ड की परीक्षाओं में होने वाले फर्जीवाड़े पर लगेगी लगाम, शिक्षकों को जारी होंगे विशेष कोड

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बोर्ड की परीक्षाओं में होने वाले फर्जीवाड़े पर लगेगी लगाम, शिक्षकों को जारी होंगे विशेष कोड

लखनऊ। राज्य सरकार ने बोर्ड की परीक्षा में होने वाले फर्जीवाड़े पर लगाम लगाने की कवायद तेज कर दी गई है। उत्तरप्रदेश में पहली बार यह फैसला लिया गया है कि बोर्ड की परीक्षा में ड्यूटी देने वाले हर शिक्षक को विशेष कोड दिया जाएगा ताकि परीक्षा के दौरान कोई भी फर्जी शिक्षक बनकर गार्डिंग न कर सके। बता दें कि पहले ही घटनाओं से सबक लेते हुए राज्य के शिक्षा विभाग ने यह फैसला लिया है।

शिक्षकों को मिलेंगे विशेष कोड

गौरतलब है कि राज्य में होने वाली परीक्षाओं के दौरान बड़े पैमाने पर फर्जीवाड़े के मामला सामने आते रहे हैं जिससे सरकार की काफी किरकिरी हुई है। अब योगी सरकार ने इस पर लगाम लगाने की प्रक्रिया तेज कर दी है। यहां बता दें कि इस साल होने वाली बोर्ड परीक्षा मार्च में शुरू होने वाली है ऐसे में अब शिक्षकों को विशेष कोड देने की तैयारी की जा रही है।

ये भी पढ़ें - तमिलनाडू में विधायकों को मिलेगी दोगुनी सैलरी, सीएम ने सदन में किया विधेयक पेश, किसानों की मां...


शिक्षकों की विशेष पहचान

आपको बता दें कि शिक्षकों के परिचय पत्र के साथ शिक्षकों का ब्योरा परीक्षा कार्यालय में जमा किया जा रहा है। इसके आधार पर विभाग सभी शिक्षकों को विशेष कोड जारी करेगा। इस कोड से ही ड्यूटी करने वाले शिक्षक पहचाने जाएंगे बता दें कि यह कोड विभाग के साथ ही शिक्षक के परिचय पत्र पर भी अंकित होगा। बोर्ड परीक्षा में निरीक्षण के समय कोड देखकर ही शिक्षक का पूरा ब्योरा सामने आ जाएगा। यहां यह भी जान लें कि शिक्षा विभाग ने परीक्षा के दौरान शिक्षकों की ड्यूटी प्रक्रिया में भी बदलाव किया है। अब खुद विभाग ही शिक्षकों की ड्यूटी निर्धारित करेगा। पहले यह जिम्मेदारी केन्द्र निरीक्षक को दी जाती थी वे फोन कर शिक्षकों को ड्यूटी के लिए बुलाते थे। 

 

Todays Beets: