Monday, August 26, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

स्कूल - कॉलेजों की कैंटिन में जंक फूड पर प्रतिबंध , जारी गाइडलाइन में हेल्दी फूड खिलाने के निर्देश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
स्कूल - कॉलेजों की कैंटिन में जंक फूड पर प्रतिबंध , जारी गाइडलाइन में हेल्दी फूड खिलाने के निर्देश

मुंबई । स्कूल - कॉलेजों में बच्चों को जंक फूड से दूर रखने के लिए पिछले काफी समय से चल रही जद्दोजहद आखिरकार अपना मूर्त रूप लेती नजर आ रही है । महाराष्ट्र फूड एंड ड्रग एडमिनिशट्रेशन ने राज्य के स्कूल-कॉलेजों की कैंटिन के लिए गाइडलाइंस बनाने के बाद अब उसे लागू करने क लिए जागरूकता अभियान शुरू किया है । लक्ष्य रखा गया है कि महाराष्ट्र के 10 हजार स्कूल-कॉलेजों की कैंटिन से धीरे धीरे जंक फूड को पूरी तरह बाहर किया जाए । महाराष्ट्र फूड एंड ड्रग एडमिनिशट्रेशन का इस जागरुकता अभियान चलाने का मकसद स्कूल कॉलेजों में बच्चों को जंक फूड के बजाए हेल्दी फूड मुहैया करवाना है । स्कूल कैंटिन के मैन्यू से चिप्स, नूडल्स, कार्बोनेटेड सॉफ्ट ड्रिंक्स, पिज़्जा,बर्गर, केक, बिस्किट,बन,पेस्ट्रीज बाहर कर स्कूलों में पोष्टिक चीजों की बिक्री बढ़ाने को कहा गया है । इसमें गेहूं की रोटी, पराठा, मल्टी ग्रेन चपाती, चावल की खीर, दही, लस्सी, छाछ, वेज सैंडविच, खिचड़ी, नारियल पानी, शिकंजी जैसे आइटम्स को शामिल करने को कहा है । 

दैनिक रेलयात्री सावधान , 21 जुलाई तक रद्द रहेंगी ये 12 EMU ट्रेनें 

बता दें कि देश भर में इस तरह की गाइडलाइंस जारी करने वाला महाराष्ट्र पहला राज्य है । महाराष्ट्र फूड एंड ड्रग एडमिनिशट्रेशन की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक , वर्ष 2019 के अंत तक राज्य के स्कूल कॉलेजों की कैंटिन में सिर्फ हेल्दी फूड ही मुहैया करवाने के अपने लक्ष्य को पूरा किया जाएगा ।  महाराष्ट्र FDA ने स्कूल-कॉलेजों की कैंटिंन का मैन्यू बदलने के लिए कहा है और स्कूलों के मैन्यू से जंक फूड को बाहर किया जाए । 

वहीं इतना ही नहीं राज्य सरकार की योजना है कि हर स्कूल कॉलेज में एक फूड टेस्टिंग लैब्स भी स्थापित की जाए । इसके अलावा स्कूलों की कैंटिंन को साफ-सफाई पर भी ध्यान देना होगा, हाइजीन से जुड़ी चैकिंग भी FDA करेगा । 


सोनभद्र नरसंहार में 32 ट्रैक्टरों में भरकर आए थे 300 हमलावर , CM योगी बोले - कांग्रेस के समय में पड़ी घटना की नींव

इससे इतर , स्कूल कॉलेजों की कैंटिन में हेल्दी फूड से जुड़े दिशानिर्देश को लागू करने में कैंटिन संचालकों को कुछ दिक्कतें हैं । उनका कहना है कि कैंटीन चलाने वालों के लिए ट्रेडिशनल फूड फायदेमंद नहीं है । बावजूद इसके महाराष्ट्र FDA की गाइडलाइंस स्कूल-कॉलेजों के कैंटिन में हेल्दी फूड को जरूर बढ़ावा देगी।

LIVE - धरने पर बैठी प्रियंका गांधी को जबरन चुनार हेस्ट हाउस ले गई पुलिस , सौनभद्र हत्याकांड के पीड़ितों से मिलने की जिद पर हैं अड़ी

Todays Beets: