Monday, August 20, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

ब्लू ह्वेल, किकी के बाद अब शुरू हुआ मौत का नया खेल ‘मोमो चैलेंज’, बच्चों पर रखें निगरानी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
ब्लू ह्वेल, किकी के बाद अब शुरू हुआ मौत का नया खेल ‘मोमो चैलेंज’, बच्चों पर रखें निगरानी

नई दिल्ली। अगर आपका बच्चा स्मार्टफोन के जरिए सोशल मीडिया पर बहुत ज्यादा समय व्यतीत करता है तो सावधान हो जाएं। ब्लू ह्वेल, किकी के बाद इन दिनों ‘मोमो चैलेंज’ सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। ‘मोमो चैलेंज’ व्हाट्सएप के जरिए युवाओं के बीच काफी लोकप्रिय हो रहा है। इस खेल में पहले एक अंजान नंबर दिया जाता है, उसके बाद बाद डरावनी तस्वीरों को भेजकर यूजर्स को डराकर उनसे मनचाहा काम करवाया जाता है। ऐसे में व्हाट्सएप पर आने वाले किसी भी अंजान नंबर को सेव न करें। 

बताया जा रहा है कि मोमो चैलेंज की शुरुआत जापान से हुई है। इसमें यहां के मशहूर कलाकार मिदोरी हायाशी के द्वारा बनाई गई एक डरावनी तस्वीर का उपयोग किया जा रहा है। हालांकि उनका इस खेल से कोई लेना-देना नहीं है। बताया जा रहा है कि यह खेल काफी खतरनाक है। अंजान नंबर के द्वारा दिए गए टास्क को पूरा नहीं करने पर यह तस्वीर यूजर्स को काफी डांटती है और उसे सजा देने की धमकी देती है। इसके बाद यूजर्स टास्क को पूरा करने पर मजबूर करती है। 

ये भी पढ़ें - कांग्रेस नेता शशि थरूर ने एक बार बोला पीएम पर हमला, पूछा- क्यों नहीं पहनते मुस्लिम टोपी?


यहां बता दें कि इससे पहले ब्लू ह्वेल और किकी चैलेंज कई लोगों के लिए जानलेवा साबित हुआ है। अब इस नए मोमो चैलेंज के जरिए युवाओं को अपराधी फंसाने का काम कर रहे हैं और उनका डाटा चोरी करने के बाद उनके परिजनों से फिरौती की भी मांग करते हैं। ये अपराधी युवाओं और बच्चों में तनाव बढ़ाकर उन्हें आत्महत्या के लिए उकसाती हैं। 

 

गौर करने वाली बात है कि सोशल मीडिया विशेषज्ञों का कहना है कि माता-पिता को बच्चों की गतिविधियों पर नजर रखनी चाहिए। स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हुए अगर उनके व्यवहार में कोई भी बदलाव दिखे तो फौरन ही किसी अच्छे मनोचिकित्सक से दिखाना चाहिए। 

Todays Beets: