Monday, June 17, 2024

Breaking News

   एमसीडी में एल्डरमैन की नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका पर SC 8 मई को करेगा सुनवाई     ||   यूक्रेन से युद्ध में दिसंबर से अब तक रूस के 20000 से ज्यादा लड़ाके मारे गए: अमेरिका     ||   IPL: मैच के बाद भिड़ गए थे गौतम गंभीर और विराट कोहली, लगा 100% मैच फी का जुर्माना     ||   पंजाब में 15 जुलाई तक सरकारी कार्यालयों में सुबह 7:30 बजे से दोपहर दो बजे तक होगा काम     ||   गैंगस्टर टिल्लू की लोहे की रोड और सूए से हत्या, गोगी गैंग के 4 बदमाशों ने किया हमला     ||   सुप्रीम कोर्ट ने 'द केरल स्टोरी' पर बैन लगाने की मांग वाली याचिका पर तुरंत सुनवाई से किया इनकार     ||   नीतीश कटारा हत्याकांड: SC में नियमित पैरोल की मांग करने वाली विशाल यादव की याचिका खारिज     ||   'मैंने सिर्फ इस्तीफा दिया है, बाकी काम करता रहूंगा' नेताओं के मनाने पर बोले शरद पवार     ||   सोनिया गांधी दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में भर्ती    ||   कर्नाटक हिजाब केस में SC ने तुरंत सुनवाई से इंकार किया    ||

सूचना-तकनीक के विकास के बावजूद मोबाइल इंटरनेट की स्पीड काफी कम, ये देश हैं भारत से आगे

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सूचना-तकनीक के विकास के बावजूद मोबाइल इंटरनेट की स्पीड काफी कम, ये देश हैं भारत से आगे

नई दिल्ली। भारत में सूचना और तकनीक का विकास भले ही तेजी से हो रहा है लेकिन अभी भी मोबाइल इंटरनेट के मामले में यह कई देशों से पीछे है। ऊकला की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि मोबाइल इंटरनेट की स्पीड के मामले में भी भारत का स्थान दुनिया में 109वां है वहीं फिक्स्ड ब्राॅड बैंड के मामले में 76वां है।

इंटरनेट स्पीड काफी कम

गौरतलब है कि ऊकला (Ookla) के नवंबर के स्पीडटेस्ट वैश्विक सूचकांक से यह जानकारी मिली है कि भारत ने भले ही तकनीक के क्षेत्र में तरक्की की है लेकिन यहां अभी भी मोबाइल इंटरनेट की स्पीड काफी कम है। उसके बयान में कहा गया कि 2017 की शुरुआत में, भारत में औसत मोबाइल डाउनलोड स्पीड 7.65 एमबीपीएस था, लेकिन साल के अंत तक यह बढ़कर 8.80 फीसदी हो गया, जो कि 15 फीसदी की बढ़ोतरी है। इसके अलावा फिक्स्ड ब्राॅड बैंड की स्पीड में काफी इजाफा हुआ। जनवरी में फिक्स्ड ब्रॉडबैंड की औसत स्पीड 12.12 एमबीपीएस थी, जबकि नवंबर में बढ़कर यह 18.82 एमबीपीएस हो गई, जो कि करीब 50 फीसदी की छलांग है।

आपको बता दें कि नवंबर में दुनिया में सबसे ज्यादा मोबाइल स्पीड नॉर्वे में दर्ज की गई, जो 62.66 एमबीपीएस रही। वहीं फिक्स्ड ब्राॅड बैंड की स्पीड के मामले में सिंगापुर सबसे आगे रहा जहां 153.85 एमबीपीएस की औसत डाउनलोड स्पीड दर्ज की गई। ऊकला के महाप्रबंधक डोग सटेल्स ने कहा कि भारत में तकनीक का तेजी से विकास हो रहा है लेकिन दुनिया के बाकी देशों तक पहुंचने के लिए अभी काफी मेहनत करनी होगी।

ये भी पढ़ें - अब रेलवे स्टेशन ही नहीं बल्कि बाजारों और सार्वजनिक जगहों पर भी मिलेगा मुफ्त वाई-फाई, गूगल देग...

इंटरनेट स्पीड के मामले में भारत से आगे हैं ये देश-

नेपाल - 99वां स्थान

नाइजीरिया - 102वां स्थान

सूडान - 103वां स्थान

इंडोनेशिया- 106वां स्थान


श्रीलंका - 107वां स्थान

भारत- 109वां स्थान

सबसे तेज मोबाइल इटरनेट वाले 5 देश

नार्वे - पहला स्थान

नीदरलैंड दूसरा - स्थान

आइसलैंड तीसरा - स्थान

सिंगापुर चौथा - स्थान

माल्टा पांचवां - स्थान  

 

Todays Beets: