Monday, August 26, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

नोएडा - ग्रेटर नोएडा में कम होंगे जमीनों के सर्किल रेट , DM बोले- गौतमबुद्ध नगर में समान होगा रेट

अंग्वाल संवाददाता
नोएडा - ग्रेटर नोएडा में कम होंगे जमीनों के सर्किल रेट , DM बोले- गौतमबुद्ध नगर में समान होगा रेट

नोएडा। सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को हजारों ऐसे लोगों को राहत पहुंचाई, जिन्होंने आम्रपाली बिल्डर से घर खरीदे थे । शीर्ष आदालत ने खरीदारों को राहत देते हुए आदेश दिया है कि आम्रपाली के लंबित प्रोजेक्ट NBCC पूरा करेगी । इतना ही नहीं सुप्रीम कोर्ट ने RERA के तहत आम्रपाली समूह की कंपनियों के पंजीकरण को रद्द कर दिया है । इस सब के बाद एक बार फिर से नोएडा -ग्रेटर नोएडा में जमीन खरीदने वालों के लिए एक अच्छी खबर है । गौतमबुद्ध नगर के डीएम बीएन सिंह ने बुधवार को बताया कि जिले के सर्किल रेट में कमी की जाएगी ।  यह कमी कामर्शियल और रेजिडेंशियल दोनों ही तरह के प्रोजेक्ट में की जाएगी । 

इमरान खान ने कबूल किया - पाकिस्‍तान में सक्रिय थे 40 आतंकी गुट , पूर्व की सरकारों ने अमेरिका को धोखे में रखा

जिले के सर्किल रेट के बारे में जानकारी देने हुए जिलाधिकारी बीएन सिंह ने बताया कि नोएडा में जमीन लेने वालों के लिए अच्छी खबर है । उन्होंने बताया कि गौतम बुद्ध नगर को चार भागों में बांट सकते हैं । इसमें पहला नोएडा, दूसरा ग्रेटर नोएडा, तीसरा दादरी और चौथा जेवर है । पिछले कुछ समय में इन चारों सर्किल के रेट भी अलग-अलग हो गए थे । ऐसे में पूरे जिले में सर्किल रेट एक समान करने की जरूरत है । हाउसिंग सेक्टर में कंसीड्रेशन अमाउंट और सर्किल रेट में ज्यादा अंतर नहीं था । स्टांप ड्यूटी पर लगने वाले 6 प्रतिशत के सरचार्ज को हटा दिया गया है । साथ ही सर्किल रेट में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है । इससे जमीन की रजिस्ट्री कराने के लिए पहले के मुकाबले कम पैसे खर्च करने होंगे ।

मॉब लिंचिंग को लेकर अनुराग कश्यप - श्याम बेनेगल जैसी 49 फिल्मी हस्तियों ने PM Modi को पत्र लिखा , कहा- जय श्रीराम भड़काऊ युद्ध बन गया


उन्होंने कहा कि साल में एक बार न्यूनतम मूल्य का निर्धारण होता है, जिसे तय करने के लिए जिले में होने वाली इकोनॉमिक एक्टिविटी को ध्यान में रखा जाता है ।  डीएम का कहना है कि कुछ समय से प्रापर्टी बाजार के गिरावट देखे जाने के चलते पिछले साल राजस्व में गिरावट देखी गई । वहीं पिछले महीने तक 1500 करोड़ रुपय जेवर एयरपोर्ट के लिए किसानों को दिए गए तो अभी 3-4 हजार करोड़ रुपये और देना है । 

इससे इतर , पिछले चार सालों में कोई एकल भूखंड नहीं बिका है  । इसी क्रम में 60 व्यावसायिक प्लाट नहीं बिके । साल 2019 में सर्किल रेट कंसीड्रेशन अमाउंट के बीच अंतर बढ़ता जा रहा था, जिसकी चलते बड़ी यूनिट नहीं बिक रही थी । ऐसे में नोएडा के लिए माल में लगने वाला सरचार्ज भी 25 प्रतिशत खत्म किया जा रहा है । 

कर्नाटक सरकार LIVE - येदियुरप्पा शुक्रवार को ले सकते हैं CM पद की शपथ , तैयारियों के बीच संघ के दफ्तर पहुंचे

Todays Beets: